Home /News /madhya-pradesh /

national lok adalat in bhopal on may 14 target to settle 23 thousand cases on the spot mpsg

बिजली-पानी या परिवार का विवाद हो तो लोक अदालत आइए, मौके पर ही निपटेंगे 23 हजार केस

BHOPAL COURT. भोपाल में हो रही लोक अदालत में समझौता करने वाले पक्षकारों को पौधा भेंट किया जाएगा.

BHOPAL COURT. भोपाल में हो रही लोक अदालत में समझौता करने वाले पक्षकारों को पौधा भेंट किया जाएगा.

National Lok Adalat : लोक अदालत के लिए भोपाल जिला कोर्ट ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है. इसमें 23 हज़ार से ज्यादा पेंडिंग केस रखे जाएंगे. इसके साथ ही 53 हज़ार प्रिलिटिगेशन केस रखे जाएंगे. दोनों पक्षों की आपसी सहमति से लोक अदालत में मामलों का निपटारा होगा. लोक अदालत में बार एसोसिएशन की ओर से ब्लड डोनेशन कैंप भी लगाया जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. भोपाल में कल 14 मई को नेशनल लोक अदालत लगने वाली है. इसमें 23 हजार से ज्यादा पेंडिंग केस का निपटारा करने का लक्ष्य रखा गया है. जो पक्षकार समझौता करेंगे उन्हें पौधा दिया जाएगा. लोक अदालत में बिजली-पानी-पारिवारिक विवाद से लेकर ट्रैफिक चालान तक के केस रखे जाएंगे.

भोपाल में शनिवार 14 मई को होने वाली नेशनल लोक अदालत में अनोखी पहल की जा रही है. अनोखी इस लिहाज से कि इसमें ज्यादा से ज्यादा मामलों का निपटारा करने का प्रयास है. इसमें 23000 से ज्यादा पेंडिंग केस निपटाने का लक्ष्य है. खास बात यह है कि समझौते के बाद दोनों पक्षकारों को पौधा दिया जाएगा.

53 हज़ार प्रिलिटिगेशन केस
लोक अदालत के लिए भोपाल जिला कोर्ट ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है. इसमें 23 हज़ार से  ज्यादा पेंडिंग केस रखे जाएंगे. इसके साथ ही 53 हज़ार  प्रिलिटिगेशन  केस रखे जाएंगे. दोनों पक्षों की आपसी सहमति से लोक अदालत में मामलों का निपटारा होगा. लोक अदालत में बार एसोसिएशन की ओर से ब्लड डोनेशन कैंप भी लगाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस में नहीं आए प्रशांत किशोर लेकिन उनके फॉर्मूले को इस राज्य में अपनाएगी पार्टी, एजेंडा तैयार

ये केस रखे जाएंगे
जिला न्यायाधीश गिरिबाला सिंह ने कहा लोक अदालत में दोनों पक्ष अपनी बात रखेंगे. आपसी सहमति से मामलों का निपटारा होगा. लोक अदालत से पैसा और समय की बचत होती है. इसमें राजस्व, सिविल, पारिवारिक विवाद, भरण पोषण, विद्युत, पानी, एक्सीडेंट क्लेम प्रकरण, श्रम संबंधी प्रकरण, बैंक चेक अनादरण, ट्रैफिक के ई चालान  क्रिमिनल क्षम्य प्रकरण  को रखा जाएगा. पिछले दो-तीन बार से मध्यप्रदेश में भोपाल कोर्ट सबसे अव्वल रही है. इस बार भी प्रयास रहेगा कि सबसे ज्यादा केस निपटाने के मामले में भोपाल कोर्ट अव्वल  रहे.

Tags: Lok Adalat, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर