खेल दिवस पर न्यूज18 का बड़ा खुलासा, शिव'राज' में पैरा ओलंपिक विजेताओं से धोखा
Bhopal News in Hindi

खेल दिवस पर न्यूज18 का बड़ा खुलासा, शिव'राज' में पैरा ओलंपिक विजेताओं से धोखा
Photo- News18

मध्यप्रदेश सरकार ने पैरा ओलंपिक खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों के साथ धोखा किया है.

  • Share this:
आज राष्ट्रीय खेल दिवस है. 29 अगस्त को हॉकी के महान खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के प्रति सम्मान प्रकट करने के लिए उनकी जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है. आज पूरे देश में विशेष कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है. इस खास मौके पर न्यूज18 एक बड़ा खुलासा करने जा रहा है कि कैसे मध्यप्रदेश सरकार ने पैरा ओलंपिक खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों के साथ धोखा किया है.

दरअसल, पिछले साल ब्राजील के रियो में हुए ओलंपिक में भारत की नुमाइंदगी करते हुए तमिलानाडु के मारियप्पन थंगावेलू (22) ने हाई-जंप में और राजस्थान के देवेंद्र झाझरिया (35) ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीता था. हरियाणा की दीपा मलिक (45) ने शॉटपुट (गोला फेंक) स्पर्धा में सिल्वर मेडल और नोएडा के वरुण सिंह भाटी (21) ने हाई-जंप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पैरा ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के बाद सभी मेडल विजेताओं को व्यक्तिगत तौर पर पत्र लिखा और गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को 50 लाख और सिल्वर मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को 40 लाख रुपए का इनाम देने का ऐलान भी किया.



शिवराज सिंह चौहान को उस वक्त काफी वाहवाही भी मिली. लेकिन न्यूज18 अपनी पड़ताल में शिवराज सरकार की पोल खोलने जा रहा है. हकीकत यह है कि घोषणा के एक साल बाद भी इन खिलाड़ियों को एक भी पैसा शिवराज सरकार की तरफ से नहीं मिला है.



देवेंद्र झाझरिया ने कहा, ' मुझे आज तक कोई पैसा नहीं मिला है. इस बारे में कोई सूचना भी नहीं मिला है. पहली बार जब घोषणा हुई थी, तब मुख्यमंत्री का 50 लाख रुपए देने का पत्र आया था. उसके बाद से सरकार ने कोई संपर्क नहीं किया.'

वरुण ने कहा, 'देवेंद्र की तरह मुझे भी मुख्यमंत्री शिवराज का एक पत्र मिला था. पत्र में बकायदा मुख्यमंत्री के हस्ताक्षर थे, जिसमें लिखा था कि मेडल विजेताओं को पुरस्कार राशि दी जाएगी. ओलंपिक पदक विजेताओं को तो यह राशि मिल गई, लेकिन पैरा ओलंपिक खिलाड़ियों के साथ ऐसा भेदभाव हो रहा है तो ठीक नहीं. मेरा मानना है कि सरकार ने झूठा वादा किया.

न्यूज18 ने सरकार के ऐलान के बारे में खेल मंत्री यशोधराराजे सिंधिया से सवाल किया, तो उनका जवाब था कि सीएम हाउस से सम्मान राशि देने का एलान किया गया था. इस बारे में कोई भी एक्शन वहां से ही लिया जाएगा.

मध्यप्रदेश सरकार पर धोखा देने के आरोप यूं ही नहीं लग रहे है. दरअसल, राज्य सरकार ने ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली पीवी सिंधु को भी 50 लाख रुपए देने की घोषणा की थी. राज्य सरकार पिछले साल ही उन्हें यह राशि भेंट कर चुकी है, लेकिए पैरा ओलंपिक विजेताओं को अब भी मुख्यमंत्री की घोषणा पूरी होने का इंतजार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading