Home /News /madhya-pradesh /

नेमावर हत्याकांड : कांग्रेस की न्याय यात्रा के दौरान धक्का-मुक्की, पीड़ित को लेकर राजभवन पहुंचे दिग्विजय

नेमावर हत्याकांड : कांग्रेस की न्याय यात्रा के दौरान धक्का-मुक्की, पीड़ित को लेकर राजभवन पहुंचे दिग्विजय

Bhopal Samachar. भोपाल में पीसीसी दफ्तर के सामने कांग्रेस की न्याय यात्रा को रोक दिया गया.

Bhopal Samachar. भोपाल में पीसीसी दफ्तर के सामने कांग्रेस की न्याय यात्रा को रोक दिया गया.

Nemavar Massacre. मध्य प्रदेश के बहुचर्चित नेमावर हत्याकांड के विरोध में कांग्रेस न्याय यात्रा निकाल रही है. हत्याकांड की पीड़ित युवती 200 किमी की पैदल यात्रा कर भोपाल पहुंची है. कांग्रेस नेता इस मार्च के साथ राज्यपाल को ज्ञापन देने राजभवन जा रहे थे. पुलिस ने उन्हें कांग्रेस दफ्तर के सामने ही रोक दिया तो धक्का मुक्की हो गयी.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. भोपाल में आज कांग्रेस नेताओं की पुलिस से धक्का-मुक्की हो गयी. पार्टी नेता नेमावर हत्याकांड (Nemavar Massacre) की पीड़ित युवती के साथ न्याय यात्रा लेकर राजभवन के लिए मार्च कर रहे थे. पुलिस ने इन्हें रोका तो दोनों पक्षों के बीच धक्का-मुक्की होने लगी. बाद में पुलिस ने चुनिंदा नेताओं को राजभवन जाने की इजाजत दी और राज्यपाल से मुलाकात हो पायी.

मध्य प्रदेश के बहुचर्चित नेमावर हत्याकांड के विरोध में कांग्रेस न्याय यात्रा निकाल रही है. हत्याकांड की पीड़ित युवती 200 किमी की पैदल यात्रा कर भोपाल पहुंची है. कांग्रेस इस कांड की CBI जांच को वो फर्जी बता रही है. यात्रा आज भोपाल पहुंची और कांग्रेस नेता इस मार्च के साथ राज्यपाल को ज्ञापन देने राजभवन जा रहे थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें कांग्रेस दफ्तर के सामने ही रोक दिया.

CBI जांच सिर्फ दिखावटी
नेमावर हत्याकांड के विरोध में निकाली गई न्याय यात्रा प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंची. कांग्रेस ने CBI जांच दिखावटी करार दिया. कांग्रेस का कहना है सीबीआई जांच के नाम पर सरकार ने मजाक किया है. अब तक जांच शुरू क्यों नहीं हुई है. पीड़ित लड़की को आरोपी पक्ष धमका रहे हैं. पुलिस ने सबूत मिटा दिये हैं और आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण मिला हुआ है.

ये भी पढ़ें- सिंधिया के बाद अरुण यादव की बारी! खंडवा-बुरहानपुर में नियुक्ति पर फिर कमलनाथ से ठनी

PCC के पास रोकी न्याय यात्रा
पुलिस ने इस यात्रा को पीसीसी दफ्तर के पास बेरिकेड लगाकर रोक दिया. इस यात्रा में शामिल प्रदर्शनकारियों की पुलिस के साथ जमकर धक्का-मुक्की हुई. महिलाएं सड़क पर बैठ गईं. न्याय यात्रा में दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, सज्जन सिंह वर्मा, कांतिलाल भूरिया सहित बड़ी संख्या में नेता कार्यकर्ता शामिल थे. सज्जन सिंह वर्मा ने कहा अभी तक पीड़ित पक्ष को न्याय नहीं मिला है. इसलिए कांग्रेस इस न्याय यात्रा के साथ है. वर्मा ने कहा शिवराज सरकार ने सीबीआई जांच की नकली सिफारिश की है. केंद्र में उनकी सरकार है फिर भी अभी तक सीबीआई जांच शुरू नहीं हुई है. उन्होंने आरोपियों को फांसी की सजा दी जाने की मांग की.

गिरफ्तारी के लिए बस में चढ़ गए दिग्विजय सिंह
पुलिस ने जब बेरिकेड लगाकर पीसीसी दफ्तर के सामने इस न्याय यात्रा को रोक दिया. तब दिग्विजय सिंह वहां खड़ी पुलिस बस के पास गए और गिरफ्तारी के लिए पीसी शर्मा, सज्जन सिंह वर्मा, कांतिलाल भूरिया, विक्रांत भूरिया के साथ कई नेताओं को चढ़ा दिया और वह खुद भी बस में सवार हो गए. हालांकि पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया. राजभवन से संपर्क करने के बाद पीड़ित लड़की के साथ सभी नेताओं को राजभवन ले जाया गया. कांग्रेस नेताओं ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा. पीड़ित पक्ष की मांग है कि आरोपियों को जल्द सजा मिले. सीबीआई जांच जल्द शुरू की जाए. उनको  धमकी देने वाले आरोपियों पर कार्रवाई की जाए. दोषी पुलिस अफसरों पर कार्रवाई की जाए.

Tags: Bhopal latest news, Madhya Pradesh Congress, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर