अखबार मालिक ने परवरिश के नाम पर नाबालिग से भी किया रेप, दर्ज हुई एक नई FIR
Bhopal News in Hindi

अखबार मालिक ने परवरिश के नाम पर नाबालिग से भी किया रेप, दर्ज हुई एक नई FIR
पुलिस मामले में जांच कर रही है. सांकेतिक फोटो.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में नाबालिग बच्चियों से रेप (Rape) के मामले में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में नाबालिग बच्चियों से रेप (Rape) के मामले में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं. रातीबड़ थाने के बाद अब शहर के कोहेफिजा थाने में फरार आरोपी अखबार मालिक प्यारे मियां पर एक नई एफआईआर (FIR) दर्ज हुई है. ढाई साल पहले आरोपी ने एक करीब 13 साल की मासूम के साथ परवरिश के नाम पर रेप किया था. आरोपी ने उसे जान से मारने की धमकी दी थी. यही कारण था कि उसने कभी पुलिस में शिकायत करने की हिम्मत नहीं दिखाई, लेकिन अब आरोपी प्यारे मियां की करतूत सामने आने के बाद लड़की के परिजन ने थाने में एफआईआर दर्ज कराई है. प्यारे मियां के साथ इस लड़की से एक अन्य आरोपी उबेद ने भी रेप किया था. पुलिस ने इस मामले में प्यारे मियां और उबेद को आरोपी बनाया है.

सीएम शिवराज​ सिंह चौहान के एक्शन में आने के बाद प्रशासन ने पुराने शहर में आरोपी प्यारे मियां का अवैध शादी भवन को ढहा दिया है. इस मामले में राष्ट्रीय बाल आयोग ने भी संज्ञान लिया है. पुलिस को आरोपी की आष्टा में कार मिली है, लेकिन अभी तक आरोपी का कोई सुराग नहीं लग पाया है. भोपाल में ही आरोपी के खिलाफ रेप के अन्य मामले भी दर्ज हैं.

नशीली दवा पिलाकर किया था रेप
कोहेफिजा थाना प्रभारी अनिल वाजपेयी ने बताया कि पुराने शहर में रहने वाली नाबालिग लड़की परिजनों के साथ थाने पहुंची. परिजन ने पुलिस को बताया कि आरोपी प्यारे मियां ढाई साल पहले उनके घर आया था। परवरिश करने के नाम पर वह उनकी साढ़े 13 साल की बेटी को अपने साथ कोहेफिजा स्थित घर ले गया था. जहां उसे नशीला पदार्थ पिलाकर रेप किया था. इसके बाद डरा-धमकाकर कई बार रेप किया. आरोपी ने लड़की के साथ इंदौर स्थित घर पर भी उसका शारीरिक शोषण किया था. इस शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ रेप, अपहरण, पाक्सो एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है.
ये भी पढ़ें: सचिन पायलट की पत्नी का CM गहलोत पर निशाना, लिखा- बड़े बड़े जादूगरों के पसीने छूट जाते हैं जब..



राष्ट्रीय बाल आयोग ने लिया संज्ञान
आष्टा में आरोपी प्यारे मियां की कार पुलिस ने बरामद किए बताया जा रहा है कि अपने ऊपर कार्रवाई होती देख आरोपी प्यारे मियां इसी कार से आष्टा तक गया था कुछ लोगों ने उसकी मदद की थी. इधर मामले में राष्ट्रीय बाल आयोग ने संज्ञान लिया है. राष्ट्रीय बाल आयोग ने पुलिस को मामले में कार्रवाई के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए. इसके अलावा आयोग राज्य बाल आयोग के संपर्क में है. आयोग का कहना है कि इस मामले में किसी को नहीं छोड़ा जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading