लाइव टीवी

नर्मदा में अवैध खनन पर एनजीटी सख्त, जांच के लिए SIT बनाने के निर्देश
Bhopal News in Hindi

Anurag Shrivastava | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 25, 2017, 6:35 PM IST
नर्मदा में अवैध खनन पर एनजीटी सख्त, जांच के लिए SIT बनाने के निर्देश
File Photo- ETV MP

मध्यप्रदेश के हरदा जिले में नर्मदा नदी में हुए अवैध खनन के मामले में एनजीटी ने एसआईटी गठित करने के निर्देश जारी किए है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के हरदा जिले में नर्मदा नदी में हुए अवैध खनन के मामले में एनजीटी ने एसआईटी गठित करने के निर्देश जारी किए है.

पूर्व मंत्री कमल पटेल की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने नर्मदा नदी में खनन के मामले में मुख्य सचिव, डीजीपी, हरदा कलेक्टर, एसपी और खनिज अधिकारियों को नोटिस जारी कर रहा है.

कमल पटेल के वकील ने बताया कि अधिकारियों से नोटिस के जरिए पूछा जाएगा कि क्यों न उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. एनजीटी ने सरकार को एसआईटी का गठन कर नर्मदा नदी में खनन से बने हालातों की जांच कराने को कहा है.

नर्मदा नदी में खनन पर रोक



मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तीन दिन पूर्व नर्मदा नदी में होने वाले रेत खनन पर रोक लगाने का ऐलान किया था. मुख्यमंत्री चौहान ने कहा था कि नर्मदा नदी में खनन पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है. मंत्री राजेंद्र शुक्ल की अध्यक्षता में एक समिति बनाई जा रही है. इस समिति की वैज्ञानिक रिपोर्ट आने के बाद ही यह तय होगा कि कितनी रेत और किस तरह से निकाली जा सकती है? तब तक नर्मदा नदी में खनन पर रोक जारी रहेगी.

उन्होंने कहा था कि नदियों के प्रवाह के लिए रेत का निकलना आवश्यक है, लेकिन खनन से पर्यावरण को नुकसान भी होता है. इस स्थिति में वैज्ञानिक ही यह तय कर सकते हैं कि कितनी रेत निकाली जाए और कैसे निकाली जाए? इसके लिए एक समिति बनाई जा रही है, वह बताएगी कि नदियों को नुकसान न पहुंचे और कितनी रेत निकाली जाए. सरकार ने इसके लिए आईआईटी, खड़गपुर से एक करार किया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 25, 2017, 6:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर