लाइव टीवी

MP में सियासी घमासान जारी, BJP नेताओं के बाद अब खुद कमलनाथ पहुंचे राजभवन
Bhopal News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: March 15, 2020, 11:57 PM IST
MP में सियासी घमासान जारी, BJP नेताओं के बाद अब खुद कमलनाथ पहुंचे राजभवन
मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी घमासान के बीच अब बड़ी खबर है. बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और नरोत्तम मिश्रा के बाद अब खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) रात करीब 11.30 बजे राजभवन पहुंचे. इस दौरान उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी घमासान के बीच अब बड़ी खबर है. बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और नरोत्तम मिश्रा के बाद अब खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) रात करीब 11.30 बजे राजभवन पहुंचे. इस दौरान उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात की. हालांकि मुलाकात के दौरान दोनों के बीच क्या चर्चा हुई इस बात की जानकारी फिलहाल नहीं है. लेकिन माना जा रहा है कि सोमवार को होने वाले बजट सत्र के दौरान फ्लोर टेस्ट न हो इस बात को लेकर ही कमलनाथ राज्यपाल लालजी टंडन से मिलने पहुंचे हैं.

बीजेपी ने फ्लोर टेस्ट को कार्यसूची में शामिल नहीं करना असंवैधानिक बताया
विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और मुख्य सचेतक डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने रविवार देर रात राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की. वहीं, गोपाल भार्गव ने कहा कि दुख की बात है कि कार्यसूची में फ्लोर टेस्ट को शामिल नहीं किया गया. यह पूरी तरह से असंवैधानिक है.



फ्लोर टेस्ट से बचने की कोशिश कर रही है कमलनाथ सरकार
नेता प्रतिपक्ष ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद कहा था कि हम उन्हें ज्ञापन देने आए हैं कि आपके स्पष्ट आदेशों का उल्लंघन हुआ है. इसके बारे में आप कोई व्यवस्था दें क्योंकि इससे पहले इस तरह की कोई स्थिति पैदा नहीं हुई. राज्यपाल के पास सारी संवैधानिक शक्तियां हैं. राज्यपाल ने आश्वासन दिया है कि शीघ्र ही इस पर कदम उठाया जाएगा. भार्गव ने कहा कि सरकार लगातार फ्लोर टेस्ट से बचने की कोशिश कर रही है.

विधानसभा कार्यसूची में फ्लोर टेस्ट का जिक्र नहीं
दरअसल, मध्य प्रदेश में 16 मार्च से होने वाले बजट सत्र की कार्यसूची रविवार देर शाम जारी कर दी गई. चौंकाने वाली बात ये है कि कार्य सूची में फ्लोर टेस्ट का जिक्र नहीं है. इस सूची के अनुसार, सोमवार को सबसे पहले राज्यपाल का अभिभाषण प्रस्तावित है और बाद में उनके अभिभाषण पर कृतज्ञता ज्ञापन.
बता दें, बीजेपी नेता लगातार फ्लोर टेस्ट की मांग कर रहे हैं. वहीं कांग्रेस नेता इस परिस्थिति में भी बहुमत सिद्ध करने का दावा कर रहे हैं. इससे पहले न्यूज 18 से खास बातचीत में कमलनाथ ने उनकी सरकार पर किसी भी तरह के खतरे से साफ इनकार किया था. उन्होंने यह दावा किया था कि यदि विधानसभा की फ्लोर टेस्ट को पास कर लेंगे. इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर विधायकों को बंदी करने का आरोप लगाया था.

ये भी पढ़ें: राज्यपाल से मिले BJP नेता, कहा- कार्यसूची में फ्लोर टेस्ट नहीं होना असंवैधानिक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 15, 2020, 11:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर