लाइव टीवी

IAS का अधूरा रह गया ख्वाब, नहीं मिली डॉन के साथ रहने की परमिशन
Guna News in Hindi

Sharad Shrivastava | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 5, 2017, 6:38 PM IST
IAS का अधूरा रह गया ख्वाब, नहीं मिली डॉन के साथ रहने की परमिशन
डॉन और बॉलीवुड अदाकारा की लव स्टोरी

जेल जाकर अबु सलेम की जिंदगी पर किताब लिखने की ख्वाहिश रखने का सपना मध्यप्रदेश के गुना जिले के एडीएम नियाज खान का अधूरा ही रहेगा.

  • Share this:
जेल जाकर अबु सलेम की जिंदगी पर किताब लिखने की ख्वाहिश रखने का सपना मध्यप्रदेश के आईएएस ऑफिसर नियाज खान का अधूरा ही रहेगा.

सामान्य प्रशासन विभाग ने नियमों का हवाला देते हुए उन्हें जेल में अबु सलेम के साथ रहने की इजाजत देने से इनकार कर दिया है.

दरअसल, गुना में पदस्थ एडीएम नियाज खान डॉन अबु सलेम और उसकी प्रेमिका एक्ट्रेस मोनिका बेदी के रिश्तों पर आधारित उपन्यास लिखना चाहते हैं. इसके लिए उन्होंने सरकार से जेल जाकर अबु सलेम से मुलाकात करने की अनुमति मांगी थी. साथ ही वह एक महीने तक उसी तलोजा जेल में रहना चाहते थे, जहां अबु सलेम कैद है.

जिला कलेक्टर ने उनके आवेदन को राज्य सरकार को भेजा था, जिसे सामान्य प्रशासन विभाग ने नियमों का हवाला देते हुए खारिज कर दिया.



उल्लेखनीय है कि एडीएम नियाज खान लिखने के शौकीन हैं और अब तक चार उपन्यास लिख चुके हैं. उनका पांचवां उपन्यास लव डिमांड्स ब्लड है जो डॉन अबू सलेम की लव स्टोरी पर आधारित बताया जा रहा है.

इस मामले को लेकर न्यूज18 ने अपर कलेक्टर नियाज खान से चर्चा की तो उन्होंने बताया कि, वे उपन्यास के पात्र को नजदीकी से समझना चाहते हैं. इसलिए वे एक महीने तक जेल में रहना चाहते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 5, 2017, 6:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर