vidhan sabha election 2017

खाली खजाना को देख शिव'राज' ने लिया ये फैसला, कर्मचारी हुए नाराज

Makarand Kale | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 7:42 PM IST
खाली खजाना को देख शिव'राज' ने लिया ये फैसला, कर्मचारी हुए नाराज
शिवराज सिंह चौहान
Makarand Kale | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 7:42 PM IST
मध्य प्रदेश सरकार के एक आदेश ने कर्मचारियों को नाराज़ कर दिया है. सरकार ने जीपीएफ पर मिलने वाले ब्याज की दरों में कटौती कर दी है. इससे खफा होकर कर्मचारियों ने आंदोलन की चेतावनी दी है.

जानकारी के मुताबिक, प्रदेश सरकार ने 2 नवंबर को एक आदेश जारी किया है जिसमें जीपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दरों में पहले 3 माह में 0.1 और दूसरे तीन महीने में 0.1 फीसदी की कटौती की गई है.

ज़ाहिर है सरकार के खाली खज़ाने को देखते हुए ये फैसला किया जा रहा है. वहीं, कर्मचारियों ने इस आदेश के जारी होने के बाद आंदोलन की चेतावनी दे दी है. सरकार के इस फैसले के खिलाफ कर्मचारी धीरे-धीरे लामबंद हो रहे है और जल्द ही उनका गुस्सा सरकार के लिए बड़ी मुसीबत की वजह बन सकता है.

हालांकि, भाजपा सरकार के फैसले का बचाव कर रही है. पार्टी के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि मध्य प्रदेश सरकार ने जितना कर्मचारियों के लिए किया है किसी दूसरी सरकार ने नहीं किया.

वहीं कांग्रेस का कहना है कि कर्मचारियों के आंदोलन में वो उनके साथ है. पार्टी के प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता का आरोप है कि बीजेपी सरकार की गलत नीतियों के चलते सरकार का खज़ाना खाली हो चुका है जिससे वो ब्याज दरों में कटौती कर रही है. कर्मचारियों के आंदोलन को कांग्रेस ने सही ठहराया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर