लाइव टीवी

बढ़ते प्याज के दामों से भोपाल में हाहाकार, 1 दिन बाद ही 'गायब' हो गया सरकारी स्‍टॉल

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 6, 2019, 10:47 AM IST
बढ़ते प्याज के दामों से भोपाल में हाहाकार, 1 दिन बाद ही 'गायब' हो गया सरकारी स्‍टॉल
भोपाल में 120 रुपए बिक रहा है प्‍याज.

प्याज (Onion) के आसमान छू रहे दामों ने भोपाल (Bhopal) में हाहाकार मचा दिया है. इस वक्‍त प्याज के दाम 120 के पार पहुंच चुके हैं और इसमें अभी उछाल की संभावना बरकरार है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में प्याज (Onion) के दाम आसमान छू रहे हैं. दिसंबर के महीने में प्याज के बढ़ते दाम से लोगों के खाने का स्वाद बिगाड़ रहा है.भोपाल (Bhopal) में प्याज के दाम 120 के पार पहुंचने से हाहाकार मच गया है. यही नहीं, प्याज के दामों में और ज्यादा उछाल के आसार हैं और यह 170 का आंकड़ा पार कर सकते हैं. जबकि आम जनता को सस्‍ते में प्‍याज देने का कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) का वादा धराशायी हो गया है.

कर्नाटक, पुणे और नासिक से मंगाई जा रही प्याज
व्यापारियों का कहना है कि इस बार मध्य प्रदेश में भारी बारिश और ओलावृष्टि के चलते प्याज पर असर पड़ा है. प्रदेश में नई प्याज की पैदावार ना होने तक इसी तरह से प्याज के दाम बढ़ते रहेंगे. फिलहाल प्याज कर्नाटक, नासिक और पुणे से मंगाई जा रही है. मंडी में थोक में ही प्याज 110 रुपए किलो मिल रही है और यह आम लोगों तक पहुंचे-पहुंचे 120-130 रुपए हो जाती है. जबकि संभावना है कि अगले 10 से 15 दिनों में यह 170 से 175 किलो का आंकड़ा पार कर जाएं.

इस वजह से महंगी हो जाती है प्‍याज

प्याज को दूसरे राज्यों से मंगाने पर किराया बहुत ज्यादा खर्च होता है, लिहाजा दाम बढ़ने स्‍वभाविक हैं. हैरानी की बात ये है कि ना सिर्फ प्याज मंगाने पर वाहन का किराया लगता है बल्कि खाली वाहन का भी किराया वसूला जा रहा है. इसके चलते अभी राहत के आसार नजर ही नहीं आ रहे हैं. व्यापारियों का कहना है कि प्याज की बढ़ती कीमतें से अब ग्राहकों ने भी प्याज खरीदना बंद कर दिया है. जबकि तीन से चार किलो तक खरीदी जाने वाली प्याज अब 250 ग्राम तक ही सिमट गई है.

सरकार ने लगाया था सरकारी स्टॉल
प्याज के बढ़ते दामों के चलते सरकार ने कालाबाजारी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश देने के साथ आम लोगों को बढ़ते प्याज के दामों से राहत देने के लिए सरकारी स्टॉल भी लगाए गए थे, लेकिन प्याज सरकारी स्टॉल महज एक रविवार तक ही सिमट कर रह गया. सिर्फ एक ही दिन प्याज आम लोगों को 50 रुपए किलो मिली. इसके बाद सरकार का वो स्टॉल कहीं नजर ही नहीं आ रहा है. ऐसे में प्याज के बढ़ते दामों से लोग परेशान हैं. जबकि आम आदमी का कहना है कि प्याज और लहसुन ठंड के महीने में ही चार महीने खाते हैं, लेकिन बढ़ते दामों से अब इन चार महीनों में प्याज खरीद पाना मुश्किल हो रहा है.ये भी पढ़ें-

अब होटलों में 24 घंटे मिलेगी शराब! तंगहाली से जूझती सरकार ने उठाया ये कदम

कमलनाथ सरकार का बड़ा फैसला, ओंकार सर्किट योजना से महाकालेश्वर-ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग को मिलेगी ग्‍लोबल पहचान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 10:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर