MP Weather Alert: राजधानी में जून कोटे की आधी बारिश, ऑरेंज-यलो अलर्ट जारी, जानिए किस जिले में कितना गिरा पानी

मध्य प्रदेश में जबरदस्त बारिश हो रही है. मानसून की समय से पहले आमद ने कई जिलों को तरबतर कर दिया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

MP Weather Alert: मौसम विभाग ने कहा है कि इस साल मानसून प्रदेश पर महरबान रहेगा. भोपाल में अभी जून खत्म नहीं हुआ. महीने के कोटे की आधी बारिश हो चुकी है. प्रदेश में बदरा झमाझम बरसेंगे.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश पर मानसून महरबान है. मौसम विभाग का कहना है कि इस साल प्रदेश में झमाझम बारिश के संकेत हैं. प्रदेश के आधे से ज्यादा जिले तरबतर हो चुके हैं. मौसम विभाग ने आज भी जिलो में यलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

इधर राजधानी भोपाल में अभी आधा जून भी नहीं बीता और महीने के कोटे की आधी बारिश हो चुकी है. मौसम विभाग ने पूर्वी मध्य प्रदेश के मंडला, बालाघाट समेत छह जिलों में भारी बारिश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. वहीं, भोपाल, सीहोर, होशंगाबाद, रायसेन समेत 22 जिलों के येलो अलर्ट जारी किया है.

ये है जिलों की स्थिति

मौसम विभाग ने बताया कि पिछले 24 घंटे में छिंदवाड़ा में 43 मिमी, होशंगाबाद में 14 मिमी, पंचमढ़ी में 31 मिमी, भोपाल में 3.2 मिमी, भोपाल शहर में 1.5 मिमी, सागर में 2.0 मिमी, भोपाल मे 102 मिमी बारिश दर्ज हुई.

शहरों में इतना पहुंचा पारा

प्रदेश के ज्यादातर जिलों में भारी बारिश होने के बाद भी लोग उमस और गर्मी से बेहाल हैं. श्योपुर और शिवपुरी में गर्मी से लोगों का हाल बेहाल है. इन जिलों में तामपान 42.6 डिग्री दर्ज किया गया. इनके अलावा गुना में 41.6 डिग्री, खंडवा में 40.1 डिग्री, राजगढ़ में 40.5 डिग्री, ग्वालियर में 40.4 डिग्री, रतलाम में 39.8 डिग्री, शाजापुर में 39.3 डिग्री, खरगोन में 39.8 डिग्री, भोपाल में 36.9 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया.

जून के कोटे की आधे से ज्यादा बारिश हुई दर्ज

मौसम विभाग के वैज्ञानिकों के मुताबिक, जून महीने के सिर्फ 12 दिन ही बीते हैं. मानसून की दस्तक से पहले ही भोपाल में जून के कोटे की आधे से ज्यादा बारिश दर्ज हो चुकी है. जून के कोटे की 5.05 इंच की आधे से ज्यादा 3.5 इंच बारिश हो चुकी है, जो सामान्य बारिश से 313 फ़ीसदी ज़्यादा है.

दिल्ली में दिखेंगे असामान्य बदलाव

भले ही मुंबई की बारिश पिछले एक हफ्ते से सुर्खियां बटोर रही हो, लेकिन दिल्ली के मौसम में इस साल असामान्य बदलाव देखने को मिल सकते हैं. 1976 के बाद 20 मई को सबसे अधिक एक दिन की बारिश दर्ज की गई थी. इसके साथ ही दिल्ली में पिछले 13 साल में सबसे पहले मानसून पहुंचने का एक और रिकॉर्ड बन सकता है. ऐसा तब हो सकता है जब दक्षिण-पश्चिम मानसून अपनी सामान्‍य गति से तेज चलकर 15 जून को दिल्‍ली में प्रवेश कर जाए.

मीडिया रिपोर्ट में आईएमडी के वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव के हवाले से कहा गया है कि मानसून के 15 जून तक दिल्ली पहुंचने और 16 जून तक पूरे देश में पहुंचने की अधिक संभावना है. उनका कहना है, 'अभी तक मानसून के दिल्‍ली पहुंचने की अपेक्षित तारीख 15 जून है. यह 12 दिन पहले या एडवांस में चल रहा है. हम इस पूरे सप्‍ताह सामान्‍य मात्रा की बारिश अनुमानित है. इसके कारण इस हफ्ते तापमान सामान्‍य से कम ही रहेगा.'

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.