• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • मंत्री के बयान से नाराज़ पटवारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, माफ़ी की मांग पर अड़े

मंत्री के बयान से नाराज़ पटवारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, माफ़ी की मांग पर अड़े

हड़ताल में महिला पटवारी भी शामिल हैं.

हड़ताल में महिला पटवारी भी शामिल हैं.

मध्य प्रदेश पटवारी संघ के आव्हान पर आज पूरे प्रदेश के पटवारी हड़ताल पर चले गए हैं. वो अपने-अपने तरीके से विरोध जता रहे हैं. हड़ताल के कारण-नक्शा,बंटान,खसरा, खतौनी, नामांतरण,राशन कार्ड, जाति प्रमाण पत्र का काम ठप्प पड़ा हुआ है

  • Share this:
    भोपाल.मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)में पटवारी आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल (strike)पर हैं. कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी (jitu patwari)के बयान से वो नाराज़ हैं. पटवारी ने पटवारियों को रिश्वतखोर कहा था.इससे नाराज़ प्रदेश भर के पटवारी हड़ताल पर चले गए हैं.

    माफ़ी की मांग- मध्य प्रदेश पटवारी संघ के आव्हान पर आज पूरे प्रदेश के पटवारी हड़ताल पर चले गए हैं. वो अपने-अपने तरीके से विरोध जता रहे हैं. हड़ताल के कारण-नक्शा,बंटान,खसरा, खतौनी, नामांतरण,राशन कार्ड, जाति प्रमाण पत्र का काम ठप्प पड़ा हुआ है. ये पटवारी, मंत्री जीतू पटवारी के उस बयान से नाराज़ हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि सब पटवारी रिश्वतखोर होते हैं. पटवारी संघ ने इसके विरोध में मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टरों को ज्ञापन सौंपकर मांग की थी कि जीतू पटवारी माफ़ी मांगें. उन्होने 3 दिन की मियाद दी थी, जो आज ख़त्म हो गयी.

    भोपाल में बस्ते जमा
    भोपाल ज़िले के 110 से ज्यादा पटवारियों ने अपने बस्ते तहसीलदार को सौंप दिए. उन्होंने मंत्री से सार्वजनिक रूप से माफ़ी मांगने की मांग की. पटवारियों की हड़ताल के कारण 24 विभागों के काम प्रभावित हो गए. कलेक्टर, तहसील कार्यालय में काम से आ रही जनता परेशान होती रही.
    इंदौर में काम ठप्प
    इंदौर में प्रशासनिक कार्यालय में सभी पटवारियों ने अपने अपने बस्ते जमा करा दिए और उन्होंने एलान किया कि अगले आदेश तक वो काम नहीं करेंगे. कलेक्ट्रेट स्थित दफ्तर में भी पटवारी नहीं बैठे.
    ग्वालियर में एलान
    ग्वालियर के पटवारी रिश्वतखोरी के बयान के खिलाफ लामबंद हो गए. जिले के 285 पटवारियों ने अपने बस्ते तहसीलदारों को सौंप दिए. उन्होंने एलान किया कि दिग्विजय सिंह और जीतू पटवारी जब तक सार्वजनिक रूप से माफ़ी नहीं मांगेंगे, तब तक आंदोलन जारी रहेगा. पटवारी शुक्रवार से कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठने वाले हैं.
    पटवारियों ने की नारेबाज़ी
    रतलाम, मंदसौर,रायसेन, जबलपुर, नीमच सहित पूरे प्रदेश में पटवारी हड़ताल पर हैं. रतलाम में हड़ताल में शामिल महिला पटवारी नारेबाज़ी करती नज़र आयी. बस्ते हाथ में लिए पटवारियों ने दफ़्तर के बाहर मंत्री जीतू पटवारी के ख़िलाफ नारे लगाए.
    मंत्री की अपील
    इस बीच प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भानोत ने पटवारियों से काम पर लौटने की अपील की है. उन्होंने कहा सरकार की मंशा किसी की भावनाएं आहत करने की नहीं हैं. अभी प्रदेश कठिन परिस्तिथियों से गुज़र रहा है. किसान -मज़दूर परेशान हैं. बारिश के कारण फसलों को हुए नुक़सान का सर्वे चल रहा है. ऐसे में हड़ताल करना ठीक नहीं. उन्होंने उम्मीद जताई कि मुझे भरोसा है कि पटवारी जल्द काम पर लौट आएंगे.

    ये भी पढ़ें-खुले में शौच करने पर MP में फिर एक बच्चे की हत्या, पड़ोसियों ने ली जान

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज