चीन के प्रति फूटा गुस्सा, भोपाल में लोग जला रहे हैं चाइनीज सामान, 20 प्रतिशत घटी बिक्री
Bhopal News in Hindi

चीन के प्रति फूटा गुस्सा, भोपाल में लोग जला रहे हैं चाइनीज सामान, 20 प्रतिशत घटी बिक्री
चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के कारण अब मार्केट के बिजनेस पर भी इसका असर पड़ने लगा है.

जानकारी के मुताबिक, 20 करोड़ रुपये का चाइनीज प्रोडक्टस का रोज कारोबार भोपाल में होता था. लेकिन अब इसके कारोबार में 20 फीसदी की कमी आई है.

  • Share this:
भोपाल. बीते कुछ समय से चीन (China) की हरकतें भारतीयों को गुस्सा दिलाती जा रही हैं. पहले तो चीन ने वुहान शहर से दुनियाभर में कोरोना वायरस (Corona virus) को फैलाया और अब भारत की सीमा पर किए गए हमले से लोगों में जमकर आक्रोश भर गया है. अपने गुस्से को बताने के लिए लोग चीन के वस्तुओं के बजाय विकल्प के रूप में स्वदेशी वस्तुओं (Indigenous goods) को खरीदना तवज्जो दे रहे हैं. इसमें भी कई लोगों की प्राथमिकता है कि लोकल को वोकल किया जाए. राजधानी भोपाल की जनता ने चाइना की वस्तुओं का बहिष्कार कर अपना रोष जताना शुरू कर दिया है. आलम यह है कि गुस्से को जाहिर करने के लिए शहर में कई जगहों पर चीनी सामानों को जलाया भी जा चुका है.

अब चीन द्वारा बनाई चीजों को खरीदने से भी लोग कतरा रहे हैं. चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का असर अब मार्केट के बिजनेस पर भी पड़ने लगा है. लॉकडाउन के पहले शहर के बाजारों में 45 फीसद वस्तुएं चीन के बिक रहे थे, लेकिन अब लगभग 15 से 20 प्रतिशत तक इनकी बिक्री घट चुकी है. चाइना का नया सामान भारतीयों ने मगवाने से मना कर दिया है. अब उद्योगपति चीन से आने वाले उपकरणों को भारत में बनाने के लिए सरकार से मदद मांग रहे हैं.

20 करोड़ रुपये की होती थी बिक्री
जानकारी के मुताबिक, 20 करोड़ रुपये के चाइनीज प्रोडक्टस का रोज कारोबार भोपाल में होता था, जो अब मंदी की ओर है. भोपालवासियों के रोष के कारण अब 7 करोड़ पर चाइना का कारोबार सिमट गया है. मार्केट में बिकने वाले 80 फीसदी बच्चों के खिलौने चाइना से आते थे जो अब मार्केट में 20 फीसदी ही मिल रहे हैं. ये 20 फीसदी भी पुराना रखा स्टॉक है. चाइनीज मोबाइल का कारोबार राजधानी में 60 प्रतिशत तक होता था जो अब ढ़ीला पड़ता जा रहा है. दवाइयों को बनाने के लिए भोपाल में 30 प्रतिशत कच्चा माल सप्लाई किया जाता था जो अब मेड इन चाइना की जगह मेड इन इंडिया लोगों की डिमांड बन गया है.
चाइना की करतूतें लोगों को परेशान करने लगी हैं


चाइना मेड प्रोजक्टस लोगों का पसंद इसलिए बनते जा रहे थे, क्योंकि चाइना सस्ते रेट पर प्रोडक्ट्स  एवलेबल करा देता है. लेकिन अब चाइना की करतूतें लोगों को परेशान करने लगी हैं. इससे लोगों ने अब ये निर्णय लिया है कि चाइना मेड प्रोडक्ट्स का बहिष्कार कर अपने गुस्से को जाहिर किया जाए. लोग अब स्वदेशी चीजों को पसंद कर रहे हैं. लोगों का कहना है की जब देश में सस्ती वस्तुएं और जरूरत के उपकरण बनने लगेंगे तो इंडिया पूरी तरह आत्मनिर्भर बन जाएगा. लोगों का चाइना के प्रति रिएक्शन देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारों ने काम शुरू भी कर दिया है. भोपालवासियों की माने तो अगर सरकार खुद के देश में प्रोडक्टस एवलेबल करा दे तो लोग चाइनीज आइटम को देखने से भी परहेज करते रहेंगे.

ये भी पढ़ें- 

भारत-चीन झड़प: गलवान में शहीद हुआ रीवा का वीर सपूत,6 महीने पहले हुई थी शादी

भोपाल: CM शिवराज ने PM नरेंद्र मोदी के सामने रखा कोरोना एक्शन प्ला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading