Home /News /madhya-pradesh /

पन्ना टाइगर रिजर्व में मिला विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला पक्षी पेरीग्रीन फाल्कन, जानिए क्यों है खास

पन्ना टाइगर रिजर्व में मिला विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला पक्षी पेरीग्रीन फाल्कन, जानिए क्यों है खास

एमपी के पन्ना टाइगर रिजर्व में विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला अनोखा पक्षी 'पेरिग्रीन फाल्कन' (Peregrine falcon) भी मिला है.

एमपी के पन्ना टाइगर रिजर्व में विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला अनोखा पक्षी 'पेरिग्रीन फाल्कन' (Peregrine falcon) भी मिला है.

पन्ना टाइगर रिजर्व में गिद्धों की गणना के दौरान कई प्रकार अनोखे और दुर्लभ पक्षी भी मिले है, इसमें विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला अनोखा पक्षी 'पेरिग्रीन फाल्कन' (Peregrine falcon) भी मिला है. इस की विशेषता ये है कि ये दुनिया का सबसे तेज 320 KM रफ्तार से उड़ने वाला पक्षी है.

अधिक पढ़ें ...

पन्ना. मध्य प्रदेश का पन्ना टाइगर रिजर्व (Panna Tiger Reserve) जो देश-दुनिया मे बाघों के लिए जाना जाता है. लेकिन अब गिद्धों के मामले में भी पन्ना टाइगर रिजर्व प्रदेश में अव्वल रहा है. बता दें कि हाल ही में पूरे प्रदेश में हुई गिद्धों की गणना में पन्ना टाइगर रिजर्व में सर्वाधिक गिद्ध पाये गए हैं.गिद्धों की गणना के दौरान रिजर्व में कई प्रकार अनोखे और दुर्लभ पक्षी भी मिले है, इसमें विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला अनोखा पक्षी ‘पेरिग्रीन फाल्कन’ (Peregrine falcon) भी मिला है. इस अनोखे पक्षी की विशेषता ये है कि ये दुनिया का सबसे तेज रफ्तार से उड़ने वाला पक्षी है, और उड़ाने भरते समय जीवित पक्षियों को पकड़कर कर खा जाता है.

पन्ना टाइगर रिजर्व में हाल ही में हुई गिद्धों की गणना के दौरान दुनिया के सबसे तेज रफ्तार पक्षी पेरीग्रीन फाल्कन भी पाए गए हैं, जो यहां के लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है. इससे साफ पता चलता है कि यहां पर पर्यावरण गिद्धों और अन्य पक्षियों के लिए अनुकूल है, जिससे वहां यहां पर रहना पसंद कर रहे हैं. पेरीग्रीन फाल्कन के बारे में कहा जाता है कि ये पक्षी बहुत लंबी-लंबी दूरियां तय करते हैं, ये एक देश से दूसरे देश की दूरियां भी तय करते हैं.

पन्ना टाइगर रिजर्व के क्षेत्रीय संचालक उत्तम कुमार शर्मा ने इस अनूठे पक्षी के बारे में बताया कि पेरीग्रीन फाल्कन 320 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भी अधिक तेज गति से उड़ान भरता है. कई जगहों में इस पक्षी की स्पीड 380 से 390 किलोमीटर प्रति घंटा भी दर्ज की गई है. जो दुनिया के तेज रफ्तार पक्षियों में सबसे ज्यादा है. इस पक्षी की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह उड़ान भरते हुए जीवित पक्षियों को ही पकड़कर खाता है. यह पक्षी चिड़ियों का शिकार करके जिंदा रहता है. इस खास पक्षी के साथ-साथ अन्य भी कई प्रकार के पक्षी पन्ना टाइगर रिजर्व में गणना के दौरान गए हैं.

पहली बार गिद्धों की कराई टैगिंग
टाइगर रिजर्व में दिसंबर में भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून के विशेषज्ञों की मदद से एक रेड हेडेड वल्चर की सफलता पूर्वक रेडियो टैगिंग की गई है. यहां पर रिसर्च के लिए विभिन्न प्रजाति के 25 गिद्धों का रेडियो टैगिंग की गई है. वन परिक्षेत्र गहरीघाट के झालर घास मैदान में एक रेड हेडेड वल्चर का जीपीएस टैग किया गया. इस प्रजाति का गिद्ध पन्ना टाइगर रिज़र्व में पाया जाता है. टैगिंग के बाद गिद्धों को खुले आकाश में छोड़े गए हैं.

गिद्धों की 7 प्रजातियां देखी जाती है पन्ना टाइगर रिजर्व में
पन्ना टाइगर रिजर्व में गिद्धों की सात प्रजातियां पाई जाती हैं, जिनमें से चार प्रजातियां पन्ना बाघ अभयारण्य की निवासी हैं जब कि शेष तीन प्रजातियां प्रवासी हैं. गिद्धों के प्रवास मार्ग हमेशा से ही वन्य जीव प्रेमियों के लिए कौतूहल का विषय रहे हैं. गिद्ध न केवल एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश बल्कि एक देश से दूसरे देश मौसम अनुकूलता के हिसाब से प्रवास करते हैं.

पन्ना टाइगर रिजर्व में गिद्धों की गणना का हासिल

  • पन्ना टाइगर रिजर्व में भी मिला विश्व का सबसे तेज उड़ने वाला पक्षी पेरीग्रीन फाल्कन.
  • यह पक्षी 320 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भी तेज भरता है उड़ान.
  • हवा में ही स्टंट करके जीवित पक्षियों का शिकार करने में है माहिर.

Tags: Mp news, Panna news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर