भोपाल के जंगलों में पुलिस ने मारा छापा, कई जगहों पर जमीन में गड़े मिले कच्ची शराब के ड्रम

प्रशासन ने जंगलों से बड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद की.

बिलखिरिया और सूखी सेवनिया इलाक़े से करीब 8400 किलोग्राम महुआ लाहन एवं 320 लीटर हाथ भट्टी शराब जांच टीम के हाथ लगी.

  • Share this:
भोपाल. मुरैना शराब कांड के बाद एहतियातन भोपाल में भी पुलिस प्रशासन ने बड़े स्तर पर कार्रवाई कर देसी शराब बरामद की है. पुलिस ने कई जंगलों में छापा मारा और शराब जब्त की. इन शराब के भट्टों को मौके पर ही नष्ट कर दिया गया. जानकारी के मुताबिक, पुलिस व आबकारी विभाग ने संयुक्त रूप से कोलार, सूखी सेवनिया एवं बिलखिरिया क्षेत्र में दबिश दी और बड़ी मात्रा में कच्ची शराब बरामद की. बिलखिरिया ओर  सूखी  सेवनिया इलाक़े से  करीब 8400 किलोग्राम महुआ लाहन एवं 320 लीटर हाथ भट्टी शराब जांच टीम के हाथ लगी.

दूसरी ओर,  पुलिस-आबकारी विभाग की टीम ने ग्राम हरिपुरा, अर्जुन नगर, नरोन्हा सांकल, टांडा, कोकता, कान्हा सैआ, सूखी सेवनिया, अमोनी भदभदा, खेरिया टपरा और बालमपुर घाटी के जंगलों, नदी- नालों के किनारे तड़के दबिश देकर जमीन में गड़े ड्रमों और हाथ भट्टी में चढ़ा महुआ लाहन और कई लीटर हाथ भट्टी मदिरा बरामद की. छापेमारी के बाद मप्र आबकारी अधिनियम 1915 की धारा 34(1) (क)  और (च) के तहत कुल 25 प्रकरण दर्ज किए गए. उसके बाद शराब  के सैंपल मौके पर ही नष्ट कर दिए गए.

आरोपियों के खिलाफ आबकारी एक्ट
वहीं कोलार पुलिस ने 400 लीटर महुआ लाहन एवं 22 लीटर हाथ भट्टी शराब बरामद की. 2 आरोपियों पर आबकारी एक्ट के तहत की गई.  कोलार पुलिस ने दबिश देकर ग्राम बोदा खो गांव के जंगलों में कच्ची शराब बनाने के लिए तीन स्थानों पर ड्रमों में छुपा कर रखे गए 400 लीटर महुआ लहान और भट्टी को नष्ट किया. आरोपियों से 400 लीटर महुआ लहान एवं कुल 22 लीटर देसी कच्ची शराब जप्त की गई.

मुरैना जहरीली शराब कांड में मर गए 21
मुरैना जहरीली शराब कांड में मरने वालों की संख्या 21 हो चुकी है. जबकि बाकी का इलाज किया जा रहा है. जिन गांव में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हुई है, वहां पर मातम पसरा हुआ है. वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस ने इस पूरे मामले को लेकर प्रदेश सरकार पर सवाल खड़े किए हैं. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने घटना की जांच के लिए पार्टी स्तर पर एक कमेटी भी वहां भेजने का फैसला किया है. मामला बागचीनी थाना स्थित छेरा मानपुर गांव और सुमावली थाना के पहवाली गांव का है. कहा जा रहा है कि छेरा मानपुर गांव में जहरीली शराब से लोगों की मौत हुई है. वहीं, पहवाली गांव में भी कई लोग जहरीली शराब के सेवन करने से मर गए हैं, जबकि गंभीर रूप से बीमार में से लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.