लाइव टीवी

BJP ने राज्यपाल के सामने कराई 106 विधायकों की परेड, कमलनाथ बोले- अविश्वास प्रस्ताव क्‍यों नहीं लाते?
Bhopal News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: March 16, 2020, 2:47 PM IST
BJP ने राज्यपाल के सामने कराई 106 विधायकों की परेड, कमलनाथ बोले- अविश्वास प्रस्ताव क्‍यों नहीं लाते?
राज्यपाल के सामने बीजेपी ने करायी 106 विधायकों की परेड

MP Crisis: सीएम कमलनाथ ने कहा कि अगर BJP के पास बहुमत है और हमारी सरकार अल्पमत में आ गई है तो विपक्षी पार्टी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव क्यों नहीं लाती है?

  • Share this:
भोपाल. फ्लोर टेस्ट की मांग पर अड़ी बीजेपी (BJP) ने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया है. मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक स्थगित होने के बाद शिवराज सिंह चौहान राजभवन पहुंचे और राज्यपाल के सामने 106 विधायकों की परेड कराई. उधर, सीएम कमलनाथ ने कहा, 'अगर हमारी सरकार अल्पमत में है तो बीजेपी अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए.' इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है राज्यपाल फ्लोर टेस्ट कराने के लिए नए सिरे से आदेश दे सकते हैं.

विधानसभा की कार्यवाही स्थगित किए जाने के बाद बीजेपी सदस्यों ने सदन में शोर-शराबा और नारेबाजी की. इसके बाद शिवराज सिंह के साथ सब राजभवन के लिए रवाना हो गए. बीजेपी ने अपने विधायकों की परेड राज्यपाल लालजी टंडन के सामने कराई और 106 सदस्यों की लिस्ट उन्हें सौंपी. इन विधायकों में नारायण त्रिपाठी शामिल नहीं थे. बीजेपी विधायकों की राज्यपाल से इस मुलाकात के दौरान पूर्व महाधिवक्ता पुरुषेन्द्र कौरव, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे भी मौजूद थे.





बीजेपी ने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया है. बीजेपी ने 106 विधायकों का शपथपत्र राज्यपाल को सौंपा और विधायकों की राज्यपाल के सामने परेड कराई. बीजेपी ने राज्यपाल से मांग की कि विधानसभा में सरकार का फ्लोर टेस्ट हो. शिवराज सिंह चौहान ने कहा प्रदेश की कांग्रेस सरकार अल्पमत में है. बीजेपी के पास सरकार बनाने के लिए जरूरी 106 का आंकड़ा मौजूद है. प्रदेश सरकार को फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करना चाहिए. शिवराज सिंह ने कांग्रेस विधायकों के बेंगलुरू में होने के सवाल पर कहा यह कांग्रेस का अंदरूनी मामला है. राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी विधायक भोपाल में अपने नए ठिकाने होशंगाबाद रोड स्थित होटल के लिए रवाना हो गए. शिवराज सिंह चौहान ने बाहर निकलकर मीडिया से कहा कि कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गयी है. वो विश्वास खो चुकी है. कमलनाथ सरकार को अब सत्ता में रहने का अधिकार खो चुकी है. इसलिए सीएम कमलनाथ फ्लोर टेस्ट कराने से भाग रहे हैं. शिवराज सिंह ने कहा राज्यपाल लालजी टंडन ने आश्वासन दिया है कि संवैधानिक अधिकारों की रक्षा की जाएगी. शिवराज सिंह ने दावा किया कि पार्टी बहुमत के पास है और कमलनाथ रणछोड़ दास हो गए हैं. शिवराज ने कहा हम इंसाफ के लिए सुप्रीम कोर्ट गए हैं.



CM कमलनाथ बोले-अविश्वास प्रस्ताव लाए बीजेपी
विधान सभा से निकलने के बाद सीएम कमलनाथ ने मीडिया से कहा-अगर BJP के पास बहुमत है और हमारी सरकार अल्पमत में आ गयी है तो वो सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव क्यों नहीं लाती? CM कमलनाथ ने कहा हम किसी से बच नहीं रहे हैं.

राज्यपाल ने विधायकों से किया सवाल
राज्यपाल लालजी टंडन ने बीजेपी के विधायकों से बातचीत की. उन्होंने विधायकों से अपनी स्वेच्छा से आने और दबाव में नहीं होने के संबंध में सवाल पूछे. सभी विधायकों ने कहा कि वो स्वेच्छा से यहां आए हैं. राज्यपाल लालजी टंडन ने कहा कि बीजेपी की मांग पर विचार किया जाएगा. विधायकों के अधिकारों का हनन नहीं होगा.

राज्यपाल से दिग्विजय मिले 
इस सियासी गर्मी के बीच विधानसभा की कार्यवाही स्थगित होते ही कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह भी राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंचे. वो राज्यपास से मिले और बाहर निकलकर मीडिया से बोले कि ये महामहिम से सिर्फ सौजन्य मुलाकात थी.

(रिपोर्टर-अनुराग श्रीवास्तव का इनपुट)

भी पढ़ें-

MP विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक स्थगित, नहीं हुआ फ्लोर टेस्‍ट

पी एल पुनिया का आरोप-bjp ने कांग्रेस विधायकों को दिया  25 करोड़ रु का ऑफर!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 16, 2020, 2:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading