FIR पर सियासी तकरार : पूर्व CM कमलनाथ का ऐलान-ना मैं डरूंगा, न चुप बैठूंगा

एमपी में कोरोना मृत्यु दर के मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी में ठनी हुई है.

एमपी में कोरोना मृत्यु दर के मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी में ठनी हुई है.

Bhopal. पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा-मेरी आवाज को कोई दबा नहीं सकता है. प्रदेश की जनता के हित की आवाज उठाने के लिए मुझ पर कितनी भी FIRदर्ज हो जाएं मैं डरूंगा नहीं.

  • Share this:

भोपाल. कोरोना (Corona) काल में कोरोना को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और मुख्यमंत्री के बीच सियासी पारा चढ़ा हुआ है. पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) के खिलाफ बीजेपी ने FIR दर्ज करायी तो कांग्रेसी भी आज सीएम शिवराज (Shivraj) के खिलाफ शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुंच गए. कमलनाथ ने कहा मैं चुप नहीं बैठूंगा.

सीएम शिवराज के आज सुबह कांग्रेस के मौत पर उत्सव मनाने के बयान के बाद पूर्व कमलनाथ ने भी बयान जारी कर साफ कर दिया कि वह चुप नहीं बैठेंगे. कमलनाथ ने कहा कोई भी FIR मुझे दबा नहीं सकती. यह सरकार चाहती है कि जनता की आवाज ना उठाओ उनके हक की लड़ाई ना लडूं. लेकिन मैं चुप नहीं रहूंगा. जीवन की आखिरी सांस तक जनता के हित की लड़ाई लड़ता रहूंगा. कोई FIR मुझे दबा नहीं सकती.

झूठ बोल रही है सरकार

पीसीसी चीफ, नेता प्रतिपक्ष और पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा सरकार कोरोना से हुई मौतों के आंकड़े छुपा रही है. लेकिन मैं सच्चाई उजागर करूंगा. तमाम चेतावनी के बावजूद प्रदेश में इलाज के लिए ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की व्यवस्था नहीं हुई है. ऐसे में मैं कैसे चुप रहूं. प्रदेश में टेस्टिंग कम हो रही है. रिपोर्ट देने में कई दिन लग रहे हैं. ऐसे में मैं चुप कैसे रहूं. प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली पर कोई बात ना हो यह मुमकिन नहीं.
मेरी आवाज कोई नहीं दबा सकता

कमलनाथ ने कहा-मैं मांग करता हूं कि प्रदेश में सिर्फ सरकारी नौकरी वालों को ही नहीं बल्कि कोरोना में मृत सभी लोगों के आश्रितों को अनुग्रह राशि मिले और यह राशि पांच लाख हो. यह सरकार से मांग करता रहूंगा. कमलनाथ ने कहा शिवराज सरकार मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए झूठे मुद्दों को लाकर आवाज दबाने की कोशिश कर रही है. डराने और झुकाने का काम किया जा रहा है लेकिन मेरी आवाज को कोई दबा नहीं सकता है. प्रदेश की जनता के हित की आवाज उठाने के लिए मुझ पर कितनी भी FIRदर्ज हो जाएं मैं डरूंगा नहीं. कमलनाथ ने साफ कर दिया है वह अब सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलकर पोल खोल अभियान चलाएंगे. वो शिवराज सरकार की अव्यवस्था, खामियों और विफलताओं को उजागर करेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज