होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

नगरीय निकाय चुनाव के मैदान में अंकगणित और ज्योतिष की चर्चा, जानिए क्या है वजह

नगरीय निकाय चुनाव के मैदान में अंकगणित और ज्योतिष की चर्चा, जानिए क्या है वजह

MP Political News. पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने अपने बयान में कहा था कि यह बात किसी से छुपी नहीं है कि पुलिस, प्रशासन और पैसे के दम के बाद भी पंचायत के परिणाम कांग्रेस के पक्ष में आ रहे हैं.

MP Political News. पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने अपने बयान में कहा था कि यह बात किसी से छुपी नहीं है कि पुलिस, प्रशासन और पैसे के दम के बाद भी पंचायत के परिणाम कांग्रेस के पक्ष में आ रहे हैं.

MP Political News. News18 से खास बातचीत में पूर्व मुख्यमंत्री पीसीसी चीफ कमलनाथ ने पंचायत चुनाव के परिणामों को लेकर कहा था 'कल के बाद परसों आता है. यह बात किसी से छुपी नहीं है. पुलिस, प्रशासन और पैसे के दम के बाद भी परिणाम आ रहे हैं. 16 महीनों में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है. मैं दौरे करता रहूंगा. मुझे विश्वास है कि विभा पटेल भोपाल की मेयर बनेंगी. भोपाल के विकास का नया इतिहास शुरू होगा.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश में जारी नगरीय निकाय चुनाव के रण में अब आरोप प्रत्यारोप के दौर तेज़ हो गए हैं. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने पंचायत चुनाव के बीच अपने पुराने बयान को दोहराया तो बीजेपी ने भी पलटवार करने में देर नहीं की. पंचायत चुनाव के परिणामों को लेकर दिए कमलनाथ के इस बयान पर कि कल के बाद परसों आता है बीजेपी ने कहा  कमल नाथ का अंकगणित अच्छा है लेकिन ज्योतिष नहीं.

पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने अपने बयान में कहा था कि यह बात किसी से छुपी नहीं है कि पुलिस, प्रशासन और पैसे के दम के बाद भी पंचायत के परिणाम कांग्रेस के पक्ष में आ रहे हैं. कमलनाथ ने ये भी दावा किया है कि 16 महीनों में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है.

नतीजों पर सियासत
पंचायत चुनाव में आ रहे नतीजों के बीच कांग्रेस ने दावा किया है कि 70% सीटों पर कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी विजयी हुए हैं. पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा पंचायत चुनाव में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी है. बीजेपी इसी डर से लंबे समय से चुनाव टाल रही थी. कमलेश्वर पटेल ने दावा किया कि निकाय चुनाव और विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी का हाल खराब होगा. इस बीच News18 से खास बातचीत में पूर्व मुख्यमंत्री पीसीसी चीफ कमलनाथ ने पंचायत चुनाव के परिणामों को लेकर कहा था ‘कल के बाद परसों आता है. यह बात किसी से छुपी नहीं है. पुलिस, प्रशासन और पैसे के दम के बाद भी परिणाम आ रहे हैं. 16 महीनों में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है. मैं दौरे करता रहूंगा. मुझे विश्वास है कि विभा पटेल भोपाल की मेयर बनेंगी. भोपाल के विकास का नया इतिहास शुरू होगा.

ये भी पढ़ें-  शिवराज को आया गुस्सा, अफसरों से बोले सीएम हाउस में नहीं चलेगा ये…

कांग्रेस का कल कभी नहीं आएगा
बीजेपी की ओर से प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने पलटवार करते हुए कहा जनता का विश्वास बीजेपी के साथ है. उपचुनाव से पहले कमलनाथ लाल परेड ग्राउंड पर झंडा फहराने का दावा करते थे लेकिन अब वो पीसीसी में भी झंडा फहराने के लायक नहीं बचे हैं. मध्य प्रदेश में कल भी आएगा, परसों भी आएगा लेकिन कांग्रेस का कभी नहीं आएगा. जनता बीजेपी के साथ है और बीजेपी के साथ रहेगी.

जारी है निकाय चुनाव का रण
मध्य प्रदेश में पंचायत और निकाय चुनाव का रण जारी है. पंचायत के लिए पहले चरण का मतदान हो चुका है. अगला चरण एक जुलाई और फिर 8 जुलाई को है. नगरीय निकाय के लिए मतदान 6 जुलाई और 13 जुलाई को होगा. पंचायत के चुनाव हालांकि पार्टी सिंबल पर नहीं होते लेकिन समर्थित प्रत्याशियों के दम पर पार्टियां अपने प्रभाव का दावा करती हैं.

Tags: Kamal nath, Madhya pradesh latest news, Municipal Corporation Elections

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर