Positive India: सड़क पर तड़प रही थी गर्भवती, देख न सके तो खुद हॉस्पिटल ले गए TI

राजधानी की पुलिस सख्ती के साथ-साथ मानवीयता से भी पेश आ रही.

राजधानी की पुलिस सख्ती के साथ-साथ मानवीयता से भी पेश आ रही.

Positive India: अरेरा हिल्स थाने के टीआई चैकिंग पॉइंट पर जा रहे थे. सड़क पर गर्भवती महिला तड़प रही थी. टीआई ने खुद महिला को हॉस्पिटल पहुंचाया. हॉस्पिटल स्टाफ को भी ध्यान देने के निर्देश दिए.

  • Last Updated: May 13, 2021, 8:22 AM IST
  • Share this:

भोपाल. कोरोना काल में वैसे-वैसे तो जगह-जगह से पुलिस की सख्ती की ही खबरें आ रही हैं, लेकिन खाकी केवल सख्त ही नहीं है, बल्कि सौम्य भी है. प्रदेश की राजधानी में पुलिस कई तरह की मानवीय भूमिकाएं भी नभा रही है. ऐसा ही एक मामला शहर के अरेरा हिल्स इलाके में दिखाई दिया.

दरअसल, भोपाल के अरेरा हिल्स थाने के प्रभारी आरके सिंह एक चेकिंग पॉइंट का जायजा लेने जा रहे थे. इसी दौरान रास्ते किनारे एक महिला दर्द से तड़प रही थी. यह देख आरके सिंह ने अपनी सरकारी गाड़ी को रोका और महिला के साथ मौजूद बुजुर्ग महिला से बातचीत की. इस बातचीत में उन्हें पता चला कि महिला गर्भवती है और उसे सुल्तानिया अस्पताल जाना है, लेकिन कोरोना कर्फ़्यू की वजह से उसे कोई साधन नहीं मिल रहा है.

झुग्गी बस्तियों में बंटवाए फूड पैकेट्स

ऐसे में थाना प्रभारी आरके सिंह ने इंसानियत की मिसाल पेश की. वे तत्काल अपनी ही गाड़ी में उस गर्भवती महिला को सुल्तानिया अस्पताल ले गए और वहां के स्टाफ को भी पाबंद किया. गौरतलब है कि राजधानी भोपाल में पुलिस अपनी ड्यूटी के साथ इंसानियत के उस फर्ज को भी निभा रही जिसकी जरूरत आज आम जनता को ज्यादा है. पुलिस आम जनता की हर संभव मदद कर रही है. उन्हें जागरूक करने का काम कर रही है. अरेरा थाना पुलिस ने मदद के हाथ बढ़ाते हुए इलाके की झुग्गी बस्तियों में लोगों को फूड पैकेट भी उपलब्ध कराए.
सीएम ने डीजीपी को दिए निर्देश

इधर, सीएम शिवराज डीजीपी को सख्त निर्देश दिए हैं. दवा बेचने वालों के मामले में सीएम ने कहा कि ऐसे नर पिशाच किसी भी सूरत में बचने नहीं चाहिए. नकली इंजेक्शन बेचना गैर इरादतन हत्या नहीं बल्कि हत्या का ही केस है. सीएम ने कहा प्रॉपर इंजेक्शन नहीं मिलने से मरीज की मृत्यु हो सकती है. हो सकता है सही मिल जाता तो बचने की संभावना थी, इसलिए नकली इंजेक्शन बेचने के मामले का विधि पूर्वक परीक्षण करें.

मैं केवल इतना चाहता हूं ऐसे नर पिशाच किसी भी कीमत पर बच ना पाएं, छूट न पाएं. इसकी गहराई में जाएं और विधि विशेषज्ञों का परामर्श भी ले लिया जाए. सीएम ने गुजरात से लाये गए नकली इंजेक्शन के मामले में कहा आरोपियों को गुजरात से उठाकर लाएं और यहां केस चले क्योंकि इंजेक्शन तो यहां बेचे गए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज