भोपाल: प्रेमचंद गुड्डू ने दिया नोटिस का जवाब, 9 फरवरी को दे चुका हूं BJP से इस्तीफा
Bhopal News in Hindi

भोपाल: प्रेमचंद गुड्डू ने दिया नोटिस का जवाब, 9 फरवरी को दे चुका हूं BJP से इस्तीफा
प्रेमचंद गुड्डू ने दिया नोटिस का जवाब (फाइल फोटो)

प्रेमचंद गुड्डू के इस्तीफे पर बीजेपी (BJP) फिलहाल चुप्पी साधे है. बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रेमचंद गुड्डू का कोई भी इस्तीफा प्रदेश संगठन को नहीं मिला है अगर वह इस्तीफा भेजते हैं तो फिर उस पर संगठन फैसला लेगा.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में उपचुनाव की आहट से पहले नेताओं की घर वापसी के संकेत मिलने लगे हैं. करीब 30 साल तक कांग्रेस में रहे पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने ठीक विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी का दामन थाम लिया था. अब वही प्रेमचंद गुड्डू (Premchand Guddu) कह रहे हैं कि उन्होंने बीजेपी से इस्तीफा 9 फरवरी को ही दे दिया था. प्रेमचंद गुड्डू ने इस बात के संकेत भी दिए हैं कि वह उपचुनाव में कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं.

दरअसल ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी सिलावट के खिलाफ बयानबाजी के आरोप में बीजेपी संगठन की ओर से प्रेमचंद गुड्डू को नोटिस जारी किया गया था. नोटिस का जवाब देते हुए प्रेमचंद गुड्डू ने एक चिट्ठी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को भेजी है. उन्होंने इस चिट्ठी में लिखा है कि वह बीजेपी से 9 फरवरी को ही इस्तीफा दे चुके हैं. इसमें उन्होंने एक बार फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी सिलावट पर निशाना साधा है. प्रेमचंद ने लिखा है कि वह फरवरी में ही यह समझ गए थे कि बीजेपी कांग्रेस की सरकार को गिरा देगी ऐसे वक्त में भी जब पूरा देश कोरोना महामारी की चपेट में था इस राजनीतिक उठापटक में उन्होंने इस्तीफा देना ही बेहतर समझा.

बीजेपी का रिएक्शन
प्रेमचंद गुड्डू के इस्तीफे पर बीजेपी फिलहाल चुप्पी साधे है. बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रेमचंद गुड्डू का कोई भी इस्तीफा प्रदेश संगठन को नहीं मिला है अगर वह इस्तीफा भेजते हैं तो फिर उस पर संगठन फैसला लेगा. फिलहाल प्रेमचंद गुड्डू को 7 दिन का नोटिस जारी किया गया है और पार्टी उनके नोटिस के जवाब का इंतजार करेगी इसके बाद उनके खिलाफ क्या कार्यवाही की जाना है यह तय किया जाएगा.



क्या है मामला ?


करीब 30 साल तक कांग्रेस में रहे पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी का दामन थाम लिया था. चुनाव में उनके बेटे को बीजेपी से टिकट मिला लेकिन वह चुनाव हार गए अब जबकि उपचुनाव की आहट है तो फिर प्रेमचंद गुड्डू के सांवेर विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने की अटकलें चल रही हैं. यहां से तुलसी सिलावट विधानसभा चुनाव जीते थे. अब प्रेमचंद गुड्डू तुलसी सिलावट और ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे हैं. उन्होंने सिलावट को चुनाव में हराने का सार्वजनिक तौर पर बयान दिया था जिसके बाद बीजेपी ने उन्हें नोटिस जारी किया था.

ये भी पढ़ें: भोपाल कलेक्टर के निर्देश पर बनी कमेटी का Covid-19 से हुई मौत पर बड़ा खुलासा, जानिए पूरा मामला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading