हाईटेक शौक और हेलीकॉप्टर से उड़ान... जानें कौन हैं भोपाल में धूनी रमाने वाले कम्प्यूटर बाबा

फाइल फोटो
फाइल फोटो

हाईटेक होने के कारण स्वामी नामदेव दास त्यागी कम्प्यूटर बाबा कहलाए. कम्प्यूटर बाबा दिगंबर अखाड़े के हैं. उनकी पहचान श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर नामदेव त्यागी के तौर पर है.

  • Share this:
नामदेव दास त्यागी यानी कम्प्यूटर बाबा, मध्य प्रदेश की राजनीति का इन दिनों एक बेहद चर्चित चेहरा. उम्र 54 साल, लेकिन दावा ये कि प्रदेश की राजनीति का रुख़ बदल देंगे. पहले शिवराज सरकार के दौरान अचानक सुर्ख़ियों में आए और अब कमलनाथ सरकार में दबदबा बनाए हुए हैं.

ये वही कम्प्यूटर बाबा हैं जिन्होंने नर्मदा खनन और घोटालों पर शिवराज सिंह चौहान सरकार के खिलाफ आवाज़ उठायी थी. शिवराज सिंह चौहान सरकार ने ही इन्हें राज्य मंत्री का दर्जा दिया था. उन्हें 5 अन्य संतों के साथ नर्मदा संरक्षण समिति का सदस्य भी बनाया था. लेकिन नर्मदा में खनन के मुद्दे पर कम्प्यूटर बाबा की सरकार से ठनक गई और उन्होंने शिवराज सिंह सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. बाबा ने पाला बदला और विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के समर्थन का ऐलान कर दिया. बाबा ने खुलकर बीजेपी के विरोध का ऐलान किया और कांग्रेस को सत्ता में आने का आशीर्वाद देते रहे. उन्होंने मध्य प्रदेश के कई शहरों में संत समागम किया. उसमें खुलकर शिवराज सरकार को हटाने और कांग्रेस का समर्थन करने की अपील की थी.





समय औऱ सरकार बदली. मध्य प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में आई और कम्प्यूटर बाबा को मां नर्मदा-मां क्षिप्रा और मां मंदाकिनी रिवर ट्रस्ट का चेयरमैन नियुक्त कर दिया गया. अब बाबा फ्रंटफुट पर हैं. पूरी तरह कांग्रेस के साथ. लगातार बीजेपी और मोदी सरकार के खिलाफ बोल रहे हैं. ये तक कह चुके हैं कि राम मंदिर नहीं तो मोदी सरकार नहीं.


दरअसल बाबा का कनेक्शन भोपाल सीट से कांग्रेस प्रत्याशी और दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह से है. वो भोपाल में दिग्विजय सिंह के समर्थन में उतर ही आए हैं. वो खुद तो आए ही अपने साथ संतों की पूरी जमात लेकर आए हैं. ये साधु संत दिग्विजय सिंह की जीत की कामना के साथ भोपाल में हठ योग और धूनी रमा कर बैठे. इन संतों का 3 दिन 7,8 और 9 मई को भोपाल में डेरा रहेगा. संत समागम के दूसरे दिन कम्प्यूटर बाबा ने दिग्विजय सिंह के समर्थन में संतों के साथ रोड-शो किया.



स्वामी नामदेव दास त्यागी से ये कम्प्यूटर बाबा इसलिए कहलाए क्योंकि बाबा हाईटेक हैं. कम्प्यूटर बाबा दिगंबर अखाड़े के हैं. उनकी पहचान श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर नामदेव त्यागी के तौर पर है. बाबा इंदौर के अहिल्या नगर में आश्रम है. वो रहते तो कुटिया में हैं, लेकिन चलते हेलीकॉप्टर से हैं. वो हाईटेक हैं. फेसबुक पर लगातार सक्रिय रहते हैं. भक्तों से लगातार चैटिंग करते हैं. उनका नाम साथी साधु संतों ने ही रखा है. विधानसभा चुनाव के दौरान उनकी राजनीतिक गतिविधियों से नाराज़ होकर अखाड़े ने इसी साल जनवरी -फरवरी में प्रयागराज में हुए कुंभ में स्नान पर रोक लगा दी थी.

ये भी पढ़ें -

कंप्यूटर बाबा को शिवराज सरकार ने दिया था मंत्री का दर्जा, अब कह रहे बदल दो 'चौकीदार'

ये भी पढ़ें -PHOTOS: कंप्यूटर बाबा के हठयोग से क्या बनेंगे दिग्विजय के जीत के योग...

भोपाल में क्या साध्वी पर भारी पड़ेंगे ये चार साधु !

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज