MP में नौतपा में आंधी के साथ हुई बारिश, Heat Wave से मिली राहत
Bhopal News in Hindi

MP में नौतपा में आंधी के साथ हुई बारिश, Heat Wave से मिली राहत
राजधानी जयपुर समेत प्रदेश के कई इलाकों में सोमवार को भी धूल भरी हवाएं और बारिश का दौर देखने को मिला.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में नौतपा के पांचवे दिन सूरज के तीखे तेवर नरम दिखाई दिए. जबलपुर, रीवा, दमोह, कटनी में तेज आंधी और तूफान के साथ बारिश (Rain) होने से मौसम में बदलाव देखने को मिला.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में नौतपा के पांचवे दिन सूरज के तीखे तेवर नरम दिखाई दिए. जबलपुर, रीवा, दमोह, कटनी में तेज आंधी (Storm) और तूफान के साथ बारिश होने से मौसम में बदलाव (Weather Changed) देखने को मिला. प्रदेश के कई जिलों में तापमान 46 डिग्री तक पहुंच गया था पर बारिश के बाद तापमान (Temprature Fallen) में ज्यादातर जिलों में गिरावट देखने को मिली. तापमान लुढ़क कर ज्यादातर जिलों में 44से 43 डिग्री पर आ गया. शनिवार की सुबह जब लोग जगे तो उन्हें मौसम थोड़ा खुशनुमा महसूस हुआ.

4 से 5 जिलों में आंधी तूफान के साथ हुई बारिश

नौतपा के छठे दिन से मौसम में बदलाव को लेकर मौसम वैज्ञानिकों ने आंधी और तूफान के साथ बारिश का पूर्वानुमान दिया था. लेकिन मध्यप्रदेश में नौतपा के चौथे और पांचवें दिन से ही मौसम का मिजाज बदला हुआ सा नजर आया. भिंड जिले में शुक्रवार की सुबह के समय आंधी तूफान के साथ हल्की बारिश दर्ज हुई तो वहीं जबलपुर, रीवा, दमोह, कटनी में भी मौसम की रंगत दोपहर होते-होते पूरी तरह से बदल गई.तेज हवाओं के चलने के साथ बारिश ने लोगों को तपन से राहत दी तो वही तापमान में भी गिरावट देखने को मिली.



ग्वालियर, चंबल, सागर और रीवा संभागों में ऐसा रहेगा मौसम



पश्चिमी राजस्थान के आसपास हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है. वहीं छत्तीसगढ़ और उसके आसपास के इलाके में हवा के ऊपरी भाग में एक और चक्रवात बना हुआ है. पश्चिमी राजस्थान से लेकर छत्तीसगढ़ के बीच एक द्रोणिका बनी है जो मध्य प्रदेश से होकर गुजर रही है. इसके कारण मध्य प्रदेश के उत्तरी हिस्से ग्वालियर, चंबल, सागर और रीवा संभाग के जिलों में आगामी 3 दिनों तक गरज चमक के साथ हल्की बारिश होने के आसार है. कहीं-कहीं धूल भरी आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है.

02 जून से प्री-मानसून एक्टिविटी होगी तेज़

मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला का कहना है कि अरब सागर से मिलने वाली आद्रता एवं पश्चिमी विक्षोभ के कारण 2 जून से फिर से पूरे मध्यप्रदेश में प्री मानसून गतिविधियां तेज होने की संभावना है. अधिकतम तापमान में अगले दो से तीन दिनों में गिरावट दर्ज होगी तो लू का असर भी कम होने वाला है. एक दो जिलों को छोड़कर पूरे मध्य प्रदेश में अब लू नहीं चलेगी. नौतपा के शुरूआती 4 दिनों में तापमान में जहाँ इज़ाफ़ा देखने को मिला, वहीं अब तापमान में गिरावट होगी. हालांकि मौसम में नमी होने से लोगों को उमस और गर्मी महसूस होगी. नौतपा के बाकी दिनों में लोगों को अब लू से राहत रहेगी.

तापमान 46 डिग्री से लुढ़क कर 42 पर पहुंचा

मध्य प्रदेश के कुछ जिलों में बारिश होने के साथ ही तापमान में भी गिरावट देखने को मिली. मौसम में बदलाव से पहले खरगोन प्रदेश भर में सबसे ज्यादा तब रहा था खरगोन में तापमान 40 डिग्री के पार रिकॉर्ड हो रहा था लेकिन आप खरगोन में तापमान में दो से 3 डिग्री की गिरावट देखने को मिली है. खरगोन में तापमान 44.4 डिग्री रिकॉर्ड हुआ तो रायसेन 45.6 डिग्री,नरसिंहपुर-मंडला 43.5 डिग्री, सीधी 43.2 डिग्री तापमान दर्ज हुआ. 8 जिलों में तापमान 42 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. बैतूल 42.7 डिग्री, गुना 42.6 डिग्री, रतलाम, दमोह, छिंदवाड़ा 42.4 डिग्री, सिवनी, शाजापुर, श्योपुर, धार, शिवपुरी में 42 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ. 8 जिलों में तापमान 41 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. भोपाल-दतिया 41.9 डिग्री सागर-टीकमगढ़ 41 डिग्री, उमरिया 41.5 डिग्री, होशंगाबाद 41.8 डिग्री खंडवा 41.1 डिग्री,राजगढ़ 41.8 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ.

ये भी पढ़ें: PM नरेंद्र मोदी 2.0: एक साल पूरे होने पर BJP करेगी रैलियां, गिनाएगी उपलब्धियां

MP Government की ऑनलाइन क्लास: जब एंड्रॉयड फोन ही नहीं तो कैसे बनेंगे होनहार !
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading