• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • कोरोना संक्रमण रोकने में MP की रैंकिंग में सुधार, देश में अब 7वें पायदान पर

कोरोना संक्रमण रोकने में MP की रैंकिंग में सुधार, देश में अब 7वें पायदान पर

 संस्थाओं में विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए पहले 7 जून तक अवकाश घोषित किया गया था. लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए इसे 30 जून तक  बढ़ाया जा रहा है. (फाइल फोटो)

संस्थाओं में विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए पहले 7 जून तक अवकाश घोषित किया गया था. लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए इसे 30 जून तक बढ़ाया जा रहा है. (फाइल फोटो)

सीएम शिवराज (cm shivraj) ने बैठक के दौरान बुरहानपुर में कोरोना मरीजों की रिकवरी रेट पर खुशी जाहिर की तो वहीं सागर (sagar) में लापरवाही बरतने पर मेडिकल कॉलेज के डीन को हटाने के निर्देश दिए

  • Share this:
भोपाल.कोरोना संक्रमण (corona infection) रोकने की कवायद में मध्यप्रदेश (madhya pradesh) के लिए थोड़ी राहत भरी खबर है. देश में अब कोरोना संक्रमण के मामले में मध्य प्रदेश का 7वां स्थान हो गया है. इससे पहले वो छठवें स्थान पर था जबकि उत्तर प्रदेश (UP) 7वें नंबर पर था. पूरे देश की तुलना में मध्यप्रदेश में लगभग 2 प्रतिशत नए संक्रमित मरीज (infected patients) पाए गए हैं जबकि पहले ये 8 प्रतिशत तक थे. प्रदेश में कोरोना के 174 नए पॉजीटिव मामले आए हैं. वहीं देश में यह संख्या 9304 है. एमपी की कोरोना रिकवरी रेट 64.3 प्रतिशत है, जबकि देश की 47.9 प्रतिशत.

गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के ज़रिए प्रदेश में कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने कोरोना नियंत्रण में लापरवाह अधिकारियों को हटाने के भी निर्देश दिए.बैठक में स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान भी मौजूद थे.

बुरहानपुर की तारीफ, सागर पर गाज
सीएम शिवराज ने बैठक के दौरान बुरहानपुर में कोरोना मरीजों की रिकवरी रेट पर खुशी जाहिर की तो वहीं सागर में लापरवाही बरतने पर मेडिकल कॉलेज के डीन को हटाने के निर्देश दिए. बुरहानपुर जिले की समीक्षा में बताया गया कि जिले में कुल 255 कोरोना केस में 194 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गये हैं, अभी वहां एक्टिव मरीजों की संख्या 45 है. बैठक में एसीएस हैल्थ ने बताया कि सागर गई एक्सपर्ट टीम ने वहां व्यवस्थाओं का जायजा लिया है जिसमें डीन का कार्य संतोषजनक नहीं पाया गया. इस पर सीएम ने डीन को तत्काल हटने के निर्देश दिए.

डाटा में अंतर आने पर नाराज़गी
मुख्यमंत्री ने बैतूल जिले की समीक्षा के दौरान डाटा में अंतर आने पर नाराजगी जाहिर की. उन्होंने एसीएस हैल्थ को निर्देश दिए कि तुरंत एक टीम बैतूल रवाना करें, जो वहां जाकर व्यवस्था देखे.बैतूल जिले में संक्रमित 34 मरीजों में से 5 ठीक होकर घर चले गये हैं 29 मरीज एक्टिव हैं.

ये भी पढ़ें-

MP विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस की यूथ ब्रिगेड करेगी टीम सिंधिया का मुकाबला

शराब दुकानों पर विवाद : हाईकोर्ट ने ठेकेदारों को दिए दो विकल्प और 3 दिन का समय

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज