6 साल की बच्‍ची का अपहरण कर रेप, आंख फोड़कर जंगल में फेंका, जांच के लिए SIT गठित
Bhopal News in Hindi

6 साल की बच्‍ची का अपहरण कर रेप, आंख फोड़कर जंगल में फेंका, जांच के लिए SIT गठित
फिलीपींस में माता-पिता ही कर रहे बच्चों का यौन शोषण

दमोह में मासूम का बलात्कार करने और उसकी आंखें फोड़ देने का मामला सामने आया है. इसके बाद बच्ची की हत्या करने की भी कोशिश की गई. इस पर कमलनाथ ने तंज कसा और कहा कि शिवराज जी ये क्या हो रहा है? वहीं सीएम शिवराज ने कहा कि दरिंदों को सख्त सजा ​दी जाएगी.

  • Share this:
भोपाल. पुलिस की नाकेबंदी और लॉकडाउन (Lockdown) के दौर में दमोह जिले के जबेरा थाना में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. घर से सामान खरीदने के लिए दुकान गई मासूम का अपहरण कर दरिंदगी करने और उसकी आंखें फोड़ देने का मामला सामने आया है. मासूम के साथ आरोपियों ने रेप (Rape with Minor) की घटना को अंजाम दिया. इसके बाद बच्ची की हत्या करने की भी कोशिश की गई. इस पूरे मामले को लेकर कांग्रेस बीजेपी सरकार पर हमलावर हो गई. पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) ने शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल किया है कि लॉकडाउन में भी अपराधियों के हौसले इतने बुलंद कैसे हैं? उन्होंने ट्वीट कर कहा कि शिवराज जी ये क्या हो रहा है?
ये है पूरा मामला
बताया जाता हैं कि जबेरा थाना अंतर्गत करीब 6-7 मासूम घर पर खेल रही थी इसी दौरान किसी अज्ञात आरोपियों द्वारा मासूम का बदला फुसला कर अपहरण किया गया एवं गांव से दूर खेत पर ले जाकर के पहले मासूम के साथ दुष्कर्म किया गया और दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने के बाद मासूम की दोनों आंखें फोड़ दी और मासूम के कपड़ों को उतारकर उसके हाथ व पैर बांधकर जंगल में फेंक दिया. इसे सनसनीखेज मामले पर दमोह एसपी हेमंत चौहान ने मीडिया को बताया कि घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जा चुका है. इसके अलावा आरोपियों की सूचना देने वाले को दस हजार रुपये का इनाम देने की भी घोषणा की गई है.  चौहान ने बताया, 'बच्ची को जबलपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है और इलाज चल रहा है. उसकी आंखों का इस वक्त ऑपरेशन किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मामले की अभी विस्तृत जांच चल रही है और आरोपी का पता लगाकर उसे पकड़ने का प्रयास जारी है.

मासूम के इलाज में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी- CM
वहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान (Cm Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि इस घटना को शर्मनाकर और दुर्भाग्यपूर्ण बताया. सीएम शिवराज ने अपराधी को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि दरिंदे को सख्त से सख्त सज़ा दी जाएगी. उन्होंने कहा कि मासूम के इलाज में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी.



कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर उठाए सवाल

दमोह के जबेरा में मासूम की आंख फोड़ कर बलात्कार किया और बाद में हत्या की कोशिश की. लॉकडाउन में जहां लोग जरूरी सामान के लिए घर से बाहर नहीं निकल पा रहे वहां अपराधियों का खुलेआम घूमना सवाल खड़े करता है. कमलनाथ ने प्रदेश सरकार पर लॉक डाउन में दुष्कर्म, हत्या चाकूबाजी जैसी घटनाओं को रोक पाने में विफल बताया है. 1 महीने पूरे करने वाली सरकार के कामकाज को लेकर कमलनाथ ने सवाल उठाए हैं और इस बात का आरोप लगाया है कि प्रदेश में मासूम अब सुरक्षित नहीं है.

कांग्रेस ने आरोपियों को जल्द पकड़ने की मांग की

पीसीसी चीफ कमलनाथ ने राज्य सरकार से आरोपियों को जल्दी पकड़ने और कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने और घटना के लिए जिम्मेदार लापरवाह अधिकारियों पर भी कार्रवाई करने की मांग की है.

 



इनपुट: पूजा माथुर

ये भी पढ़ें:  Lockdown: कोटा से आए छात्रों की हुई VIP खातिरदारी, वहीं भूखे रह गए मजदूर

मध्य प्रदेश: विश्वविद्यालयों में परीक्षाएं आयोजित कराने के लिए कमेटी गठित की
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज