MP: स्कूली छात्रा से रेप, पुलिस की लापरवाही से आरोपी को मिली जमानत, NCPCR ने किया तलब
Bhopal News in Hindi

MP: स्कूली छात्रा से रेप, पुलिस की लापरवाही से आरोपी को मिली जमानत, NCPCR ने किया तलब
(सांकेतिक तस्वीर)

मामला बैरागढ़ इलाके का है. यहां के एक प्राइवेट स्कूल के संचालक के बेटे ने छात्रा के साथ रेप किया था. उस पर महिला थाना पुलिस ने FIR भी दर्ज की थी. आरोपी को गिरफ्तार भी किया गया था, लेकिन कमजोर जांच की वजह से आरोपी को जमानत मिल गई.

  • Share this:
भोपाल. राजधानी भोपाल में एक स्कूली छात्रा के साथ रेप का मामला सामने आया है. इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी किया और उसे कोर्ट से जमानत मिल गई. छात्रा के परिजन ने पुलिस पर जांच में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है. इस मामले में अब राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग ने नार्थ एसपी से 10 दिन में मामले की रिपोर्ट तलब की है.

यह मामला बैरागढ़ इलाके का है. यहां के एक प्राइवेट स्कूल के संचालक के बेटे ने छात्रा के साथ रेप किया था. उस पर महिला थाना पुलिस ने FIR भी दर्ज की थी. आरोपी को गिरफ्तार भी किया गया था, लेकिन कमजोर जांच की वजह से आरोपी को जमानत मिल गई.

आयोग ने 10 दिन में मांगी रिपोर्ट



इस मामले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग ने नॉर्थ एसपी को पत्र लिखकर 10 दिन में इस घटना से जुड़े दस्तावेज मांगे हैं. आयोग से मामले में छात्रा की मेडिकल रिपोर्ट भी तलब की है. आरोपी और कोई नहीं बल्कि एक प्राइवेट स्कूल के संचालक का बेटा है. पुलिस पर आरोप लग रहे हैं कि स्कूल संचालक ने अपने रसूख का इस्तेमाल करते हुए जांच को प्रभावित किया है. पुलिस ने भी सही दिशा में जांच नहीं की. पीड़िता के परिजनों का भी आरोप है कि इस मामले में पुलिस ने जांच में लापरवाही बरती. इस वजह से आरोपी को जमानत का लाभ मिला.
छात्रा को मिल रही धमकी

19 अगस्त को एक स्कूल संचालक का नाबालिग बेटा छात्रा को किताब दिलाने के बहाने सीहोर स्थित एक हुक्का लाउंज में ले गया था. वहां पर पेय पदार्थ में नशा मिलाकर उसने छात्रा का रेप किया. घटना का वीडियो बनाने के बाद आरोपी छात्रा को उसके दोस्तों के साथ संबंध मनाने के लिए ब्लैकमेल करने लगा था. छात्रा ने मना कर दिया तो आरोपी ने 22 अगस्त को छात्रा का अश्लील वीडियो इंस्टाग्राम पर डाल दिया था. इस शिकायत पर 27 अगस्त को महिला थाने में केस दर्ज किया गया था. छात्रा के परिजनों ने अब यह आरोप भी लगाए हैं कि जमानत मिलने के बाद आरोपी लगातार मामला वापस लेने के लिए दबाव बना रहा है उन्हें लगातार धमकियां भी दी जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज