हैवानियतः रीवा में लड़की को जिंदा जलाने की कोशिश, मुश्किल से बची जान; 3 साल पहले आरोपी ने किया था रेप

मप्र के रीवा में अपराधी ने लड़की को जिंदा जलाने की नाकाम कोशिश की. (सांकेतिक तस्वीर)

मप्र के रीवा में अपराधी ने लड़की को जिंदा जलाने की नाकाम कोशिश की. (सांकेतिक तस्वीर)

Crime in Madhya Pradesh: रीवा में एक लड़के ने लड़की को जिंदा जलाने की कोशिश की. इसी लड़के ने तीन साल पहले उसके साथ रेप भी किया था. पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 5:02 PM IST
  • Share this:
रीवा. रीवा में अजीबो-गरीब वाकया सामने आया है. एक आरोपी ने जिस लड़की का कुछ साल पहले रेप किया था, उसे बीते दिनों जिंदा जलाकर मारने की कोशिश की. लड़की को तो घरवालों ने जैसे-तैसे बचा लिया, लेकिन उनकी दहशत कम नहीं हो रही. घटना को अंजाम देकर आरोपी भाग गया. पुलिस उसकी तलाश कर रही है. बताया गया कि रेप के इसी मामले में 2 साल जेल की सजा काटकर लौटे आरोपी ने इस खौफनाक वारदात को अंजाम दिया.

जानकारी के मुताबिक, घटना रीवा में मऊगंज थाना क्षेत्र के गांव की है. आरोपी ने पीड़िता को मारने के लिए कमरे में ही आग लगा दी. इलाज के लिए युवती को संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने लड़की और परिजनों की शिकायत पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है.

रेप के बाद लड़के ने कर दिया था शादी से इनकार

पुलिस ने बताया कि साल 2017 में राजेश यादव ने एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद लड़की गर्भवती हो गई. सामाजिक दबाव को कम करने के लिए लड़की के घर वाले लड़के से शादी का कहने लगे, लेकिन उसने इनकार कर दिया. घरवालों ने इसकी शिकायत पुलिस से की. कुछ महीनों चली जांच के बाद पुलिस ने दुष्कर्म का केस दर्ज कर आरोपी को जेल भे​ज दिया. दो साल जेल में रहने के बाद आरोपी को अप्रैल 2020 में जमानत मिल गई.
लड़की की चीख से खुलीं घरवालों की आंखें

पीड़ित लड़की ने पुलिस को बताया कि वह घर के अंदर सो रही थी. माता-पिता आंगन में और भाई बगल के कमरे में सो रहा था. शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात करीब 3 बजे अचानक उसके कमरे में आग जलने लगी. आग एकदम फैलने लगी और लड़की की चीख से माता-पिता की आंख खुल गई. घरवालों ने आग लगाने वाले को देखा, लेकिन लड़की को बचाने के दौरान वह भाग निकला. परिजन बुरी तरह से झुलसी लड़की को तुरंत मऊगंज अस्पताल ले गए, जहां से उसे संजय गांधी अस्पताल रेफर कर दिया गया.

जेल जाने के बाद से रंजिश रखता है आरोपी- मां



युवती और उसकी मां का आरोप है, आरोपी उसके गांव का ही राजेश यादव है. उसे मालूम था, शुक्रवार अलसुबह घर वालों को खेत पर काम करने जाना है. इसी बीच आरोपी राजेश यादव घर में घुस आया. बेटी को आग लगा दी. जब तक कुछ समझ पाते, तब तक आरोपी भाग गया. युवती की मां ने बताया, आरोपी ने तीन साल पहले बेटी का यौन शोषण किया था. जेल जाने के बाद वह रंजिश रखता था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज