• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • जब दिग्विजय बोले 'लौट आया खोटा सिक्का'

जब दिग्विजय बोले 'लौट आया खोटा सिक्का'

दिग्विजय सिंह

दिग्विजय सिंह

राजनीति के लहजे से देखा जाए तो लगता है मध्य प्रदेश का इतिहास गुजरात में दोहरा रहा था.

  • Share this:
    उड़नपरी पीटी उषा ने सेकंड के 100वें हिस्से में लॉस एंजिलिस ओलंपिक खेलों से कांस्य पदक गंवा दिया था. खेलों की भाषा में इसे फोटो फिनिश कहा जाता है. गुजरात के नतीजे भी बताते हैं कि फैसला फोटो फिनिश से ही हुआ है. लेकिन राजनीति के लहजे से देखा जाए तो लगता है मध्य प्रदेश का इतिहास गुजरात में दोहरा रहा था.

    दरअसल, 1998 में मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले भी कुछ ऐसे ही राजनीतिक हालात बने थे. राज्य में सत्ता विरोधी लहर थी और माना जा रहा था कि भाजपा इस लहर पर सवार होकर दिग्विजय को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखा देगी.

    वर्ष 1993 में कांग्रेस को 174 स्थानों पर विजय मिली, वहीं बीजेपी 117 स्थानों पर सिमट गई थी. पांच साल बाद वर्ष 1998 में हुए चुनाव में भाजपा को पूरी उम्मीद थी कि इस बार वह सरकार बनाने में कामयाब अवश्य हो जाएगी. लेकिन एक बार फिर जनता ने कांग्रेस पर भरोसा किया और उसे 172 सीटें देकर प्रदेश की बागडोर उसे सौंप दी थी.

    172 सीटें दिखने में काफी होती है, लेकिन मध्य प्रदेश विधानसभा में विधायकों की संख्या 320 हुआ करती थी. किसी भी दल को बहुमत हासिल करने के लिए 161 का जादुई आंकड़ा छूना होता था, ऐसे में कांग्रेस ने किनारे पर आकर ही बहुमत हासिल किया था.

    गुजरात चुनाव में जिस तरह 'गब्बर सिंह टैक्स' का जुमला सुर्खियां बना था, उस वक्त एमपी के चुनाव में 'खोटा सिक्का' की गूंज थी. 1998 के चुनाव में तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को 'खोटे सिक्के' की संज्ञा दी थी और सत्ता में लौटने के बाद दिग्विजय सिंह ने अपनी पहली प्रेस कांफ्रेंस में पहला शब्द यही कहा था, 'लो खोटा सिक्का लौटकर आ गया.'

    दिग्विजय सिंह के उस बयान और अब प्रधानमंत्री मोदी के जीत के बाद 'विकास' को लेकर दिए बयान में सामंजस्य नजर आता है. कांग्रेस के विकास पागल हो गया नारे पर तंज कसते हुए मोदी ने नारा दिया- "जीतेगा भई जीतेगा, विकास ही जीतेगा."

    दिग्विजय ने जीत के बाद कहा था कि चुनाव मैनेजमेंट से जीता जाता है. गुजरात नहीं देश के बाकी राज्यों में भाजपा की जीत के बाद ये तो कहा जा सकता है कि मोदी-शाह की जोड़ी का मैनेजमेंट फॉर्मूला सुपरहिट है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज