बाढ़ में घिरी गर्भवती महिला का रेस्क्यू, ख़तरे के निशान से 12 मीटर ऊपर बह रही है नर्मदा

मौसम विभाग ने अभी भी कई ज़िलों के लिए रेड और ऑरेंज अलर्ट (WEATHER ALERT)जारी किया है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: September 10, 2019, 1:45 PM IST
बाढ़ में घिरी गर्भवती महिला का रेस्क्यू, ख़तरे के निशान से 12 मीटर ऊपर बह रही है नर्मदा
छतरपुर में बाढ़ में 9 लोग फंस गए
News18 Madhya Pradesh
Updated: September 10, 2019, 1:45 PM IST
भोपाल. मध्य प्रदेश (MADHYA PRADESH)के कई ज़िलों में अब भी बारिश (HEAVY RAIN) से राहत नहीं मिली है. बड़वानी में नर्मदा (NARMADA RIVER)का जल स्तर 49 साल बाद रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया और मंदसौर में गांधी सागर डैम (GANDHI SAGAR DAM)के 14 गेट खोल दिए गए. छतरपुर में 5 लोग पानी में फंस गए जिन्हें सही-सलामत निकाल लिया गया. मौसम विभाग ने अभी भी कई ज़िलों के लिए रेड और ऑरेंज अलर्ट (WEATHER ALERT)जारी किया है.

रायसेन:गर्भवती महिला बाढ़ में फंसी
रायसेन के बरेली में बाढ़ के पानी में एक गर्भवती महिला भी फंस गयी थी. वो डिलीवरी के लिए जा रही थी, उसी दौरान बाढ़ में घिर गयी. उसके सिवाय 5 और लोग बाढ़ में फंसे थे. प्रशासन ने रेस्क्यू के लिए अभियान चलाया और महिला सहित सभी लोगों को सही-सलामत निकाल लिया. महिला को तत्काल अस्पताल ले जाया गया जहां उसने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया.

रायसेन में गर्भवती महिला को बचाया


बड़वानी : नर्मदा ख़तरे के निशान से 12 मीटर ऊपर
बड़वानी में नर्मदा नदी ख़तरे के निशान से 12 मीटर ऊपर बह रही है. यहां राजघाट में नर्मदा का जल स्तर 49 साल के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है. यहां पानी 136.400 मीटर के स्तर को छू रहा है. राजघाट टापू में तब्दील हो गया है.कई मकान डूब गए हैं. टापू पर करीब 40 परिवार और 100 से अधिक मवेशी हैं. सभी को निकाला जा रहा है.

छतरपुर-नदी में फंसे लोगों का रेस्क्यू
Loading...

छतरपुर में धंसान नदी में उफान आने पर 9 गांव वाले टापू में फंस गए थे. उनमें से 5 लोगों को निकाल लिया गया है. बाकी चार लोगों को निकाला जा रहा है.

मंदसौर- गांधी सागर डैम के 14 गेट खोले
मंदसौर में गांधी सागर बांध का वॉटर लेवल 1311 फिट से ऊपर पहुंचने के बाद बांध के 14 गेट फिर खोल दिए गए हैं. बांध से 2 लाख क्यूसेक पानी लगातार छोड़ा जा रहा है जो राजस्थान के कोटा जिले के राणा प्रताप सागर में पहुंच रहा है. इलाके में अलर्ट जारी कर दिया गया है. राणा प्रताप सागर के भी गेट खोल दिए गए हैं. लगातार बारिश के कारण जहां जनजीवन अस्त-व्यस्त है और फसलें खराब हो रही हैं. किसानों की मुख्य फसल सोयाबीन है जो लगभग 70% से ज्यादा खराब हो चुकी है. लगातार बारिश के कारण जहां कच्चे मकान भरभरा कर गिर रहे हैं.



खंडवा- नाले में बहा युवक

खंडवा में तीन पुलिया पर करते वक्त एक युवक नाले में बह गया. वो कौन था और कहां जा रहा था इसका पता अभी नहीं चल पाया है. फिलहाल युवक की तलाश शुरू कर दी गयी है. होमगार्ड की टीम युवक की तलाश में जुटी हैं.

(रायसेन से अंकित तिवारी के साथ बड़वानी से पंकज शुक्ला, मंदसौर से नरेन्द्र धनौतिया, खंडवा से हरेन्द्रनाथ ठाकुर और छतरपुर से सुनील उपाध्याय की रिपोर्ट )

ये भी पढ़ें-सतना में डर लगता है! 3 साल में 721 बच्चे लापता, अपहरण और हत्या से दहला ज़िला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 11:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...