समाज सेवा: जिनका अंतिम संस्कार नहीं हो सका, उनके पिंड दान कर रहे स्वयंसेवक

मध्य प्रदेश में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने अंजान कोरोना मृतकों के पिंड दान का बीड़ा उठाया है.

समाज सेवा: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने उन लोगों के पिंड दान का फैसला किया है, जिनका अंतिम संस्कार नहीं हो सका. ये सभी मृतक कोरोना संक्रमित थे. संघ के मुताबिक, कई लोगों को ऑनलाइन भी जोड़ा गया.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कई ऐसे परिवार हैं जो कोरोना संक्रमित सदस्यों के निधन के बाद उनका विधि-विधान से अंतिम संस्कार तक नहीं कर पाए. इस काम के लिए अब संघ के स्वयंसेवक आगे आए हैं. भोपाल में संघ के स्वयंसेवकों ने 200 से ज्यादा लोगों की अस्थियों को होशंगाबाद जाकर विधि-विधान के साथ नर्मदा नदी में विसर्जित किया. होशंगाबाद के मंगल घाट पर अस्थियां विसर्जित करने की प्रक्रिया पूरी की गई.

संघ के कार्यकर्ता रमेश लेखवानी ने बताया कि जब हमारे स्वयंसेवक अंतिम संस्कार में सहयोग कर रहे थे तो कई ऐसे शव भी आए जिनके साथ कोई नहीं था. हमने उन सभी लोगों की अस्थियों को इकट्ठा किया. कई ऐसे परिवार थे, जो किन्हीं कारणों से अपने परिजनों की अस्थियों को नहीं ले जा पाए. उन्होंने हमसे अनुरोध किया था कि विधि-विधान से उनके प्रियजनों की अस्थियों का विसर्जन करने में सहयोग करें.

संघ के स्वयंसेवक की टोली बनाकर 200 से ज्यादा अस्थियों के साथ भोपाल से नर्मदापुरम (होशंगाबाद) निकले. इस दौरान मध्यभारत के प्रांत संघचालक अशोक पाण्डेय ने पुष्पांजलि अर्पित कर नर्मदापुरम के मंगल घाट पर पूजन के बाद इन अस्थियों को नर्मदा में विसर्जित कर दिया.

ऑनलाइन जुड़े परिजन 

इस दौरान स्वयंसेवकों ने कई परिवारों को ऑनलाइन भी जोड़ा. उन्होंने पूरे विधि-विधान से ऑनलाइन ही रस्में पूरी कीं. बता दें कि कोरोना काल में मध्यभारत प्रांत के स्वयंसेवकों ने 53 स्थानों पर अंतिम संस्कार के लिए अपनी सेवाएं दी.

एक दिन में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 4 हज़ार से कम

मध्य प्रदेश सरकार का कहना है कि प्रदेश में एक दिन में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 4 हज़ार से कम हो गई है. शनिवार को सामने आए आंकड़ों के हिसाब से प्रदेश में कोरोना के 3844 नए केस आए. एक्टिव मरीजों की संख्या 62 हजार 53 है. वहीं, पिछले 24 घंटे में 9327 मरीज स्वस्थ हुए हैं. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, शनिवार को पाजिटिविटी की दर 4.8 फीसदी थी. जबकि, हफ्ते की पॉजिटिविटी रेट 7.3 फीसदी है. इस पूरे हफ्ते में कोरोना के 36 हजार 684 नए मामले सामने आए. प्रदेश में केवल 4 जिलों में हफ्ते की पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ज्यादा है. इसमें भोपाल में 13 फीसदी, इंदौर में 12 फीसदी, रीवा में 12 फीसदी और रतलाम में 11फीसदी है.
Published by:Nikhil Suryavanshi
First published: