लाइव टीवी

सोशल मीडिया पर पोस्ट के बाद माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय में हंगामा, दो प्रोफेसर्स को हटाने की मांग

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 12, 2019, 6:59 PM IST
सोशल मीडिया पर पोस्ट के बाद माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय में हंगामा, दो प्रोफेसर्स को हटाने की मांग
माखन लाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विवि में छात्रों का हंगामा

माखनलाल विवि के छात्रों का आरोप है कि पिछले कुछ दिनों से प्रोफेसर दिलीप मंडल (Dilip Mandal) सोशल मीडिया (social media) में मीडिया के एक वर्ग विशेष को लेकर लगातार पोस्ट कर रहे हैं. उन्होंने जाति विशेष आधारित मीडिया को लेकर हैशटैग भी चला रखा है. प्रो. मुकेश कुमार (mukesh kumar) ने भी जाति विशेष को लेकर सोशल मीडिया में टिप्पणी की है.

  • Share this:
भोपाल. भोपाल (bhopal) स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय ( Makhanlal Chaturvedi National University of Journalism) में आज फिर हंगामा कटा रहा. इस बार छात्रों ने दो प्रोफेसर्स (Two professors) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. इन प्रोफेसर्स ने सोशल मीडिया (social media) में जातिगत टिप्पणियां की हैं. इससे गुस्साए छात्रों ने कुलपति ऑफिस के बाहर जमकर हंगामा किया.

भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय में फिर चर्चा में आ गया. छात्र नारे लगाते हुए कुलपति ऑफिस के बाहर धरने पर बैठ गए. प्रदर्शन के दौरान कुलपति ऑफिस के बाहर लगा गेट टूट गया. छात्रों का आरोप है कि प्रोफेसर दिलीप मंडल और मुकेश कुमार सोशल मीडिया में लगातार एक वर्ग विशेष को लेकर जातिगत टिप्पणियां कर रहे हैं. दोनों प्रोफेसर यूनिवर्सिटी में भी जातिगत आधार पर भेदभाव करते हैं. इस वजह से छात्रों में आपसी सौहार्द बिगड़ रहा है. इस हंगामे के दौरान कुलपति यूनिवर्सिटी में मौजूद नहीं थे. इसलिए छात्रों की शिकायत का निपटारा नहीं हो पाया. यूनिवर्सिटी प्रशासन का कहना है कि छात्रों की शिकायत लिखित तौर पर ले ली गई है. कुलपति के आने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी.

क्या है विवाद की वजह ?
माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय, पत्रकारिता की पढ़ाई के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान रखता है. यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर दिलीप मंडल और मुकेश कुमार फैकल्टी के तौर पर पढ़ाने आते हैं. छात्रों का कहना है कि पिछले कुछ दिनों से प्रोफेसर दिलीप मंडल सोशल मीडिया में मीडिया के एक वर्ग विशेष को लेकर लगातार पोस्ट कर रहे हैं. उन्होंने जाति विशेष आधारित मीडिया को लेकर एक हैशटैग भी चला रखा है. प्रोफेसर मुकेश कुमार ने भी सोशल मीडिया में जाति विशेष को लेकर सोशल मीडिया में टिप्पणी की है. इस वजह से छात्रों में इन्हें लेकर नाराज़गी है. छात्रों की मांग है कि दोनों प्रोफेसर्स को यूनिवर्सिटी से बाहर किया जाए.

छात्रों का प्रदर्शन, यूनिवर्सिटी प्रबंधन मौन
प्रोफेसर्स के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए विश्वविद्यालय में पुलिस को बुला लिया गया. छात्र कुलपति कक्ष के बाहर ही धरना देकर बैठ गए लेकिन कुलपति दीपक कुमार के मौजूद नहीं रहने की वजह से उनकी मांग पर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई. न्यूज़ 18 ने रजिस्ट्रार दीपेंद्र बघेल से बात की तो उनका कहना था छात्रों की शिकायत ले ली गई है. कुलपति के आने के बाद इसका समाधान होगा.

ये भी पढ़ें-निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए जल्लाद बनना चाहता है ये रिटा.फौजीशादी के 7 महीने बाद तीन तलाक और फिर हलाला के नाम पर तांत्रिक ने किया रेप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 6:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर