Assembly Banner 2021

दिग्विजय-सिंधिया पर सज्जन का पलटवार, कहा- चक्रव्यूह से निकलना जानते हैं CM कमलनाथ

मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने दिग्विजय सिंह और सिंधिया पर साधा निशाना

मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने दिग्विजय सिंह और सिंधिया पर साधा निशाना

मप्र कांग्रेस के नेताओं में आपसी कलह थमने का नाम नहीं ले रही. दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) के बाद अब ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindhiya) सरकार पर निशाना साध रहे हैं. पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (PWD Minister Sajjan singh Verma) ने इन दोनों नेताओं पर पलटवार किया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश कांग्रेस (Madhya Pradesh Congress) में घमासान अभी थमा नहीं है. दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Digvijay Singh & Jyotiraditya Scindhiya) के हमलों के बाद अब बारी कमलनाथ गुट की है. सीएम कमलनाथ (CM Kamalnath) के विश्वस्त और पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (PWD Minister Sajjan Singh Verma) ने इन दोनों ही नेताओं को घेर लिया. उन्होंने जहां सिंधिया पर सीधी टिप्पणी की, वहीं दिग्विजय सिंह का नाम लिए बिना उन पर हमला बोला. सज्जन ये बताने से भी नहीं चूके कि कमलनाथ इन सभी का अच्छे से मुकाबला कर रहे हैं.

सिंधिया को अपने क्षेत्र के किसानों की ज्यादा चिंता 
ज्योतिरादित्य सिंधिया के अपनी ही सरकार को घेरने पर मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने जवाब दिया कि कमलनाथ मां की पेट से सीख कर आए हैं कि चक्रव्यूह कैसे भेदना है. कमलनाथ आधुनिक युग के अभिमन्यु हैं, उन्हें हर चक्रव्यूह से निकलना आता है. वहीं दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर पर उन्होंने बिना नाम लिए कहा कि जो जब पद पर रहते हैं, तब खुद के काम याद नहीं आते. वर्मा ने कहा कि सिंधिया को अपने क्षेत्र के किसानों की ज्यादा चिंता है, तभी वो इस तरह की बात कर रहे हैं. अभी विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है तो सिंधिया उन्हें मुद्दा दे रहे हैं.

News - त्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि सिंधिया जी को अपने क्षेत्र के किसानों की ज्यादा चिंता है
मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपने क्षेत्र के किसानों की ज्यादा चिंता है

लगातार सरकार को घेर रहे हैं सिंधिया


बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर-चंबल के दौरे पर हैं. वो घूम-घूमकर क्षेत्र के लोगों से उनकी समस्याएं सुन रहे हैं. साथ ही वो अपनी सरकार के खिलाफ भी खुलकर बोल रहे हैं. महाराज ने भिंड में कार्यकर्ता सम्मेलन में कमलनाथ सरकार को संकट की घड़ी में जनता के साथ खड़े होने की समझाइश दी तो किसान कर्ज माफी के लिए उसे घेरा भी. उन्होंने कहा कि केवल 50 हजार रूपए ही माफ किए गए हैं, जबकि सरकार ने दो लाख तक की बात कही थी. सरकार को किसानों का पूरा कर्ज माफ करना चाहिए.

ये भी पढ़ें -

मामल्लपुरम बीच पर PM मोदी को दिखा कूड़ा तो करने लगे सफाई, शेयर किया Video
आधी रात को कुशीनगर के SDM को क्यों करनी पड़ी महिला मित्र से शादी, ये रही वजह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज