भोपालः सैनिक कल्याण बोर्ड में करोड़ों का घोटाला, EOW ने एफआईआर दर्ज कर शुरू की जांच
Bhopal News in Hindi

भोपालः सैनिक कल्याण बोर्ड में करोड़ों का घोटाला, EOW ने एफआईआर दर्ज कर शुरू की जांच
भोपाल में सैनिक कल्याण बोर्ड में घोटाले की EOW ने शुरू की जांच.

सैनिक कल्याण बोर्ड (Sainik Welfare Board) के कर्मचारी नीरज चतुर्वेदी ने बोर्ड के चेयरमैन के नाम पर फर्जी अकाउंट खुलवाकर करोड़ों रुपए की राशि की हेराफेरी की. घोटाले में गृह विभाग के कई अफसरों के नाम भी शामिल होने की EOW कर रही जांच.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश के सैनिक कल्याण बोर्ड (Sainik Welfare Board) के चेयरमैन के नाम से बैंक खाता खोलकर करोड़ों रुपए की राशि की हेराफेरी करने का मामला सामने आया है. बोर्ड में हुए इस घोटाले (Scam) की जांच आर्थिक अपराध शाखा (EOW) को सौंपी गई है. EOW ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि इस मामले में गृह विभाग के कई बड़े अफसरों के नाम भी शामिल हो सकते हैं. करोड़ों रुपए के गबन के मामले में ईओडब्ल्यू ने प्राथमिक जांच के बाद एफआईआर दर्ज की है, लेकिन सीआईडी में मामले की एक और शिकायत होने की वजह से जांच अधर में अटकी थी. पुलिस मुख्यालय के हस्तक्षेप के बाद इस घोटाले की पूरी जांच ईओडब्ल्यू को सौंपने के निर्देश दिए गए हैं.

गृह विभाग के बड़े अफसरों के नाम

इस घोटाले में सैनिक कल्याण बोर्ड के कर्मचारियों के अलावा गृह विभाग के कई बड़े अफसरों का नाम भी सामने आ रहा है. यही कारण है कि अब गृह विभाग में इन अफसरों के नाम को लेकर चर्चा होने लगी है. ईओडब्ल्यू ने घोटाले से जुड़े तमाम दस्तावेजों को जुटाना शुरू कर दिया है. यह मामला काफी साल पुराना है, इसलिए बोर्ड के स्तर पर तमाम दस्तावेज जुटाए जा रहे हैं.



ये है पूरा मामला
ईओडब्ल्यू को मिली शिकायत के अनुसार सैनिक कल्याण बोर्ड के कर्मचारी नीरज चतुर्वेदी ने कई साल पहले सैनिक कल्याण बोर्ड के चेयरमैन के नाम से फर्जी अकाउंट खुलवाया था. इस अकाउंट में करोड़ों की राशि अलग-अलग मामलों को लेकर ट्रांसफर की गई. जब इस बात का पता चला तो 2019 में सहायक संचालक कर्नल अश्विनी कुमार ने घोटाले का खुलासा किया. चतुर्वेदी ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है. आरोप है कि फ़र्जी अकाउंट से राशि खुद के और दूसरों के अकाउंट में ट्रांसफर की गई. इनमें प्रॉपर्टी ब्रोकर, भू-स्वामी, एसोसिएट से जुड़े लोग भी शामिल हैं. ईओडब्ल्यू तमाम लोगों के नाम को लेकर अपने स्तर पर दस्तावेज जुटाना शुरू कर दिया है. बताया गया कि जल्द ही इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी भी की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज