लाइव टीवी

मंत्रियों के साथ पटरी ना बैठाने वाले सीनियर IAS अफसर भेजे सकते हैं यहां से वहां

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 10, 2020, 11:56 AM IST
मंत्रियों के साथ पटरी ना बैठाने वाले सीनियर IAS अफसर भेजे सकते हैं यहां से वहां
एमपी में सीनियर आईएएस-आईपीएस अफसरों के हो सकते हैं तबादले

मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव (CS) एस आर मोहंती का कार्यकाल 31मार्च को पूरा हो रहा है. उससे पहले मप्र के नए मुख्य सचिव के नाम की घोषणा हो सकती है.मुख्य सचिव को लेकर एम गोपाल रेड्डी का नाम लगभग तय माना जा रहा है.

  • Share this:
भोपाल.मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में जल्द ही एक और बड़ी प्रशासनिक सर्जरी हो सकती है.कानून व्यवस्था की दिक्कतों और अफसरों के बीच विवाद को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ (cm kamalnath) जल्द ही प्रशासनिक अफसरों को इधर से उधर कर सकते हैं. निशाने पर वो सीनियर आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) अफसर हैं जो मंत्रियों की बात नहीं मान रहे.

मध्य प्रदेश में सरकार बदलने के बाद सैकड़ों की तादाद में तबादले हुए थे. इस फेरबदल में वरिष्ठ प्रशासनिक अफसर भी प्रभावित हुए थे. अब एक बार फिर सीनियर लेवल पर ये बदलाव किया जा सकता है. सरकार की नज़र उन आईएएस और आईपीएस अफसरों पर है जिनकी मंत्रियों से पटरी नहीं बैठ रही. इससे सरकार का कामकाज प्रभावित हो रहा है.मुख्यमंत्री मन बना चुके हैं. वो जल्द ही इस बात पर चर्चा करने वाली हैं कि किन मंत्रियों की उनके विभाग के प्रमुख सचिव के साथ तालमेल नहीं बन पा रहा है.केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने के बाद किन-किन विभागों के अधिकारियों के पास दोहरा प्रभार है.

इन अफसरों पर है नज़र
महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी, खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, मंत्री ओमकार सिंह मरकाम अपने विभाग के प्रमुख सचिवों से मेल ना बैठने की शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ से कर चुके हैं.ऐसे में महिला बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव अनुपम राजन, खाद्य विभाग की प्रमुख सचिव नीलम शमी राव, आदिम जाति कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव दीपाली रस्तोगी,राजस्व विभाग के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी, वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अनुराग जैन, नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे यहां से वहां किए जा सकते हैं.

मुख्य सचिव मोहंती 31मार्च को होंगे रिटायर
मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव एस आर मोहंती का कार्यकाल 31मार्च को पूरा हो रहा है. उससे पहले मप्र के नए मुख्य सचिव के नाम की घोषणा हो सकती है.मुख्य सचिव को लेकर एम गोपाल रेड्डी का नाम लगभग तय माना जा रहा है.जलसंसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव एम गोपाल रेड्डी 1985बैच के मप्र के नए मुख्य सचिव हो सकते हैं..रेड्डी का नाम सीएस की रेस में सबसे आगे चल रहा है.

आईपीएस अधिकारी भी होंगे इधर से उधरफेरबदल में आईपीएस अफसर भी प्रभावित होंगे.शहडोल,होशंगाबाद,छतरपुर के एसपी डीआईजी पद पर प्रमोट हो चुके है.छतरपुर औऱ जबलपुर के डीआईजी भी आईजी बन चुके है.इसलिए यहां भी तबादलों की तलवार लटकी हुई है. राजगढ़ में कलेक्टर-एसपी विवाद के बाद माना जा रहा है कि एसपी को दूसरे जिले में भेजा जा सकता है.

ये भी पढ़ें-MP का खाली ख़ज़ाना भरने के लिए अर्थशास्त्री मोंटेक सिंह अहलूवालिया देंगे मंत्र

DGP पद के दावेदार मैथिलीशरण गुप्ता ने सोशल मीडिया में कही 'मन की बात'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 11:47 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर