लाइव टीवी

BJP ने चुनावों के लिए नियुक्त किए पर्यवेक्षक, प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं ये नाम

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 3, 2019, 4:59 PM IST
BJP ने चुनावों के लिए नियुक्त किए पर्यवेक्षक, प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं ये नाम
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चुनाव के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त, जल्द होंगे चुनाव

एमपी बीजेपी (MP BJP) का अगला प्रदेश अध्यक्ष कौन होगा इस पर सियासी जोर आजमाइश का दौर शुरु हो गया है. इस चुनाव की अहमियत को देखते हुए केंद्रीय आलाकमान ने दो पर्यवेक्षकों (Observer) की नियुक्ति भी कर दी है. माना जा रहा है कि जिलाध्यक्षों के नामों का ऐलान होते ही प्रदेश अध्यक्ष के निर्वाचन की तारीख का ऐलान कर दिया जाएगा

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश बीजेपी का नया सेनापति कौन होगा बीजेपी संगठन में ये सवाल इन दिनों बिजली बनकर दौड़ रहा है. मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह (Rakesh Singh) जहां अपना दावा बरकरार रखने के लिए सियासी बिसात बिछा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ नए दावेदार भोपाल से लेकर दिल्ली तक जोर आजमाइश कर रहे हैं. प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव की अहमियत को देखते हुए केंद्रीय आलाकमान ने दो केंद्रीय मंत्रियों मुख्तार अब्बास नकवी और अश्विनी चौबे को पर्यवेक्षक नियुक्ति किया है.

रेस में शामिल नेता
बीजेपी में प्रदेश अध्यक्ष के दावेदारों पर एक नज़र डालें तो मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के अलावा जो नाम दावेदारी में आगे हैं उनमें पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह, राज्यसभा सांसद प्रभात झा, पूर्व संसदीय कार्यमंत्री मंत्री नरोत्तम मिश्रा और खजुराहो सांसद बी डी शर्मा के नाम प्रमुखता से लिए जा सकते हैं.

शिवराज का दांव

सूत्र बताते हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं इस पद के इच्छुक बताए जाते हैं. उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को अपनी ओर से आश्वस्त किया है कि यदि पार्टी उन्हें मौका देती है तो वो प्रदेश की कांग्रेस सरकार के लिए सबसे कठिन चुनौती साबित होंगे. जहां तक पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह की बात है तो पार्टी के सूत्र बताते हैं कि उनका नाम भी शिवराज सिंह चौहान ने ही आगे बढ़ाया है. शिवराज के ये दांव अचूक माने जा सकते हैं क्योंकि नेता प्रतिपक्ष पर ब्राम्हण होने के बाजद इस बात की संभावना कम है कि पार्टी प्रदेश अध्यक्ष पद पर भी ब्राम्हण को बैठाए लिहाज़ा शिवराज का पलड़ा भारी है.

क्या प्रदेश अध्यक्ष बदलेगी बीजेपी?
हालांकि बीजेपी की पार्टी लाइन के मुताबिक आमतौर पर जो प्रदेश अध्यक्ष नॉमिनेटेड होता है उसे निर्वाचन का मौका मिलता है, इस लिहाज से देखें तो राकेश सिंह का दावा मजबूत है. लेकिन जिस तरह प्रदेश में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और राकेश सिंह के बीच मतभेद सामने आए हैं और बीजेपी को प्रदेश की सत्ता से बाहर होना पड़ा, उसे देखते हुए क्या केंद्रीय आलाकमान प्रदेश बीजेपी के सेनापति के नाम पर कोई बड़ा बदलाव करेगा ये देखने वाली बात होगी.ये भी पढ़ें -
सिंहस्थ घोटाले में BJP सांसद जी एस डामोर पर शिंकजा, EOW ने शुरू की जांच
दुनिया की सबसे भीषण त्रासदी, जिसने 23 हजार लोगों को मौत के घाट उतारा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 4:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर