Home /News /madhya-pradesh /

खाली होता खजाना भरेगा विधायकों की जेब,शिवराज ने लगाई वेतन वृद्धि पर मुहर

खाली होता खजाना भरेगा विधायकों की जेब,शिवराज ने लगाई वेतन वृद्धि पर मुहर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्विटर पर तालाब में डूबने वाले मृतक युवकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया है. सीएम शिवराज ने 

ट्वीट में लिखा है कि, भोपाल में नाव पलटने से पांच नौजवानों की मृत्यु हृदय विदारक दुर्घटना है. इससे मन में हुई पीड़ा को शब्दों में व्यक्त 

करना आसान नहीं है.एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए सीएम ने लिखा है कि, सर्वशक्तिमान ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे शोक संतप्त 

परिवारों को वज्रपात सहने की सामर्थ्य प्रदान करें. इन क्षणों में हम उनके साथ हैं. वहीं, उन्होंने नौजवानों से अपील है कि वे उल्लास के क्षणों में 

भी संयम नहीं खोएं. उनके कंधों पर माता-पिता के सपने टिके हैं. यही पूर्वजों ने सिखाया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्विटर पर तालाब में डूबने वाले मृतक युवकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया है. सीएम शिवराज ने ट्वीट में लिखा है कि, भोपाल में नाव पलटने से पांच नौजवानों की मृत्यु हृदय विदारक दुर्घटना है. इससे मन में हुई पीड़ा को शब्दों में व्यक्त करना आसान नहीं है.एक के बाद एक तीन ट्वीट करते हुए सीएम ने लिखा है कि, सर्वशक्तिमान ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे शोक संतप्त परिवारों को वज्रपात सहने की सामर्थ्य प्रदान करें. इन क्षणों में हम उनके साथ हैं. वहीं, उन्होंने नौजवानों से अपील है कि वे उल्लास के क्षणों में भी संयम नहीं खोएं. उनके कंधों पर माता-पिता के सपने टिके हैं. यही पूर्वजों ने सिखाया है.

आर्थिक तंगी के बावजूद प्रदेश सरकार ने मंत्री और विधायकों के वेतन-भत्ते समेत विधायक निधि बढ़ना तय कर दिया है.

प्रदेश के आर्थिक तंगी के बावजूद प्रदेश सरकार के मंत्री और विधायकों के वेतन-भत्ते समेत विधायक निधि बढ़ना तय हो गया है. सीएम शिवराज ने गुरुवार सुबह विधानसभा में वित्त मंत्री और अफसरों के साथ बैठक कर वेतन-भत्ते और विधायक निधि बढ़ाने के फैसले पर मुहर लगा दी.

इसके बाद सरकारी विभाग का अमला इसका ड्रॉफ्ट बनाने में जुट गया. दोपहर तक इस ड्रॉफ्ट को फाइनल भी कर लिया गया. सीएम के निर्देश के बाद शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव को रखा जाएगा.

क्या है प्रस्ताव

दिल्ली के बाद अब मध्यप्रदेश में विधायकों का वेतन दोगुना बढ़ाने की तैयारी है. अभी विधायकों को 71 हजार रुपए मिलते हैं. इसे बढ़ाकर 1.25 लाख करने पर सहमति बन गई है.

अभी विधायकों का मूल वेतन 10 हजार रुपये है, जो 20 हजार हो जाएगा. निर्वाचन भत्ता भी 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार किया जा रहा है.

विधानसभा के बजट सत्र में इस संबंध में प्रस्ताव लाया जाएगा. बढ़े हुए वेतन का फायदा 1100 पूर्व विधायकों को भी मिलेगा.

वहीं, एक अप्रैल से विधायकों की निधि भी बढ़ जाएगी. विधायकों को अभी क्षेत्र विकास के लिए हर साल 77 लाख रुपए और 3 लाख रुपए स्वेच्छानुदान के मिलते हैं. अब यह राशि बढ़ाकर डेढ़ करोड़ रुपए की जा रही है.

उम्मीद है कि नए वित्तीय वर्ष से यानि अप्रैल 2016 से विधायकों को बढ़े हुए वेतन का लाभ मिलेगा.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर