Assembly Banner 2021

MP Budget 2021: 2 मार्च को बजट पेश करेगी शिवराज सरकार, किसान और महिलाओं समेत इन क्षेत्रों पर रहेगा फोकस

मध्‍य प्रदेश का बजट 2 लाख 40 हजार करोड़ रुपये तक का हो सकता है.

मध्‍य प्रदेश का बजट 2 लाख 40 हजार करोड़ रुपये तक का हो सकता है.

MP Budget 2021: मध्‍य प्रदेश सरकार 2 मार्च को बजट पेश करेगी. इसका आकार 2 लाख 40 हजार करोड़ रुपये तक का हो सकता है. जबकि इस दौरान कर्मचारियों, किसानों और महिलाओं के अलावा कई अन्‍य क्षेत्रों पर फोकस रहने की उम्‍मीद है. हालांकि पेट्रोल और डीजल पर वैट की दर कम होने के कम चांस हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश के 2 मार्च को आने वाले बजट (MP Budget 2021) में आम जनता को राहत मिलने की उम्मीद कम है. वैसे सरकार भले ही नया टैक्स नहीं लगाने पर विचार कर रही हो, लेकिन पेट्रोल और डीजल पर वैट भी घटने के संकेत नहीं मिल रहे हैं. हालांकि इस दौरान कर्मचारियों, किसानों और महिलाओं के अलावा कई अन्‍य क्षेत्रों पर फोकस रहने की उम्‍मीद है. इन सबके बीच चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Vishvas Sarang) दावा कर रहे हैं कि यह आम लोगों का बजट है और कल्याणकारी बजट है.

इस बार मध्‍य प्रदेश का बजट 2 लाख 40 हजार करोड़ रुपये तक का हो सकता है. यह पिछले साल की तुलना में सात से दस फीसदी तक बढ़ने वाला है. बजट में पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने की संभावना कम है. सरकार न ही कोई नया टैक्स लगाएगी. शराब पर भी यही स्थिति रहेगी. जबकि गैस पीड़ित विधवा महिला की पेंशन फिर शुरू करने का प्रावधान होगा. इसके अलावा बजट में नर्मदा एक्सप्रेस-वे, अटल प्रोग्रेस वे के रास्ते में इकोनॉमिक कॉरिडोर और इंडस्ट्रियल निवेश को बढ़ाने के लिए नए प्रावधानों किए जा रहे हैं.

बजट में कर्मचारियों पर फोकस
इस बजट में सरकार का फोकस प्रदेश के साढ़े सात लाख कर्मचारियों और चार लाख पेंशनर्स पर रहेगा. 7.50 लाख कर्मचारियों को दो वेतन वृद्धि एक साथ मिलेने की उम्मीद है. 2020 और 2021 की वेतन वृद्धि देने की घोषणा सरकार कर सकती है. इसके अलावा 25 फीसदी तक डीए की भी व्यवस्था होने की उम्मीद है. हालांकि इस व्यवस्था से 4 से 5 हजार करोड़ का खर्च आएगा.
बजट में हो सकती है यह घोषणा


बजट में किसानों को राज्य की ओर से 4 हजार रुपए सम्मान निधि अब बराबर मिलेगी. साथ ही बजट में मप्र में 9 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा होगी. छह केंद्र सरकार की मदद से और तीन मप्र खोलेगा. मेडिकल कॉलेज शिवपुरी, राजगढ़, मंडला, सिंगरौली, नीमच, मंदसौर, छतरपुर, दमोह और सिवनी में खुल सकते है.

मंत्री ने बताया कल्याणकारी बजट
चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बजट को कल्याणकारी बताया है. उन्होंने कहा कि यह बजट विकास करने वाला और जन कल्याणकारी होगा. बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर विश्वास सारंग ने कहा, 'यह बात सही है कि कोविड का संक्रमण बढ़ा है लेकिन हमारी सरकार पूरी तरह सतर्क है, क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स की बैठकें हुई हैं, वैक्सीनेशन के साथ गाइडलाइंस का पालन सख्ती से कराया जाएगा.

इन मुद्दों पर भी मंत्री ने की बयानबाजी
सीएम शिवराज सिंह चौहान के बंगाल दौरे पर सारंग ने कहा कि भाजपा पूरी ताकत से बंगाल में चुनाव लड़ रही है. ममता का राज खत्म करना हमारे लिए प्राथमिकता है. वहीं हिंदू महासभा के तत्कालीन नेता और कांग्रेस में शामिल हुए बाबूलाल चौरसिया पर दिग्गी के बयान पर विश्वास सारंग ने तंज कसते हुए कहा कि कथनी और करनी को स्पष्ट करने की बात आई तो दिग्विजय सिंह शांत हैं. कांग्रेस को अरुण यादव और मानक अग्रवाल को जवाब देना पड़ेगा. सारंग ने महिला दिवस पर कांग्रेस के हाउस के घेराव को लेकर कहा कि कांग्रेस के नेताओं के महिलाओं के लिए जो बयान दिए हैं इसके बाद महिलाओं को कांग्रेस से कोई उम्मीद नहीं है, कांग्रेस महिला उत्पीड़न में आगे रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज