कमलनाथ सरकार का एक और फैसला पलटेंगे शिवराज चौहान, अब जनता ही चुनेगी मेयर
Bhopal News in Hindi

कमलनाथ सरकार का एक और फैसला पलटेंगे शिवराज चौहान, अब जनता ही चुनेगी मेयर
मध्य प्रदेश की तीन राज्यसभा सीटों के लिए 19 जून को चुनाव होना है. विधायकों की संख्या बल के हिसाब से बीजेपी को दो और कांग्रेस को एक पर जीत मिलने की संभावना है

शिवराज सरकार (Shivraj Government) कमलनाथ सरकार (Kamalnath) का एक और फैसला पलटने जा रही है. इस फैसले के तहत मध्यप्रदेश में मेयर के चुनाव अब प्रत्यक्ष प्रणाली से ही होंगे यानि मेयर चुनाव के लिए जनता ही वोट करेगी.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल. मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार (Shivraj Government) कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) का एक और फैसला पलटने जा रही है. इस फैसले के तहत मध्य प्रदेश में मेयर (Mayor) के चुनाव अब प्रत्यक्ष प्रणाली से ही होंगे यानि मेयर चुनाव के लिए जनता ही वोट करेगी. ऐसा माना जा रहा है कि कैबिनेट का कोरम पूरा होने के बाद सरकार यह प्रस्ताव कैबिनेट में लेकर आएगी और फिर उसके बाद या तो विधानसभा में बिल लाकर या फिर अध्यादेश के जरिए इसे लागू कर दिया जाएगा. अपने कार्यकाल में कमलनाथ सरकार ने संशोधन करते हुए यह तय किया था कि प्रदेश में मेयर के चुनाव प्रत्यक्ष ना होकर अप्रत्यक्ष प्रणाली से किए जाएंगे. बीजेपी ने उस समय भी इसका पुरजोर विरोध किया था और फैसले को वापस लेने की मांग की थी लेकिन कांग्रेस सरकार ने फैसले को यथावत रखा था. अब जबकि प्रदेश में बीजेपी सत्ता पर काबिज हो गई है.

लिहाजा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस प्रस्ताव को बदलने की सैद्धांतिक तौर पर सहमति दे दी है. कैबिनेट कोरम पूरा होने के बाद यह माना जा रहा है कि सरकार इस प्रस्ताव को कैबिनेट में लेकर आएगी उसके बाद अगर मॉनसून सत्र में देरी हुई तो फिर इसके लिए अध्यादेश भी लाया जा सकता है.

कांग्रेस ने किया था बदलाव



वर्ष 2018 में कांग्रेस की सरकार आने से पहले तक प्रदेश में मेयर और नगरपालिका अध्यक्षों के चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से ही किए जा रहे थे. इस प्रणाली में जनता पार्षद के साथ-साथ मेयर चुनाव के लिए भी वोट करती थी लेकिन कांग्रेस की सरकार आने के बाद कमलनाथ सरकार ने इसमें संशोधन करते हुए मेयर का चुनाव अप्रत्यक्ष कराने का फैसला किया यानी मेयर पार्षदों के जरिए चुना जाना तय किया गया था. बीजेपी ने तब इस प्रणाली का जोरदार विरोध किया था.



बीजेपी कांग्रेस इस मुद्दे पर आमने सामने

मेयर चुनाव को लेकर अब एक बार फिर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने आ गई हैं. बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है बीजेपी लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं में विश्वास करती है लिहाजा जनप्रतिनिधियों का चुनाव जनता के द्वारा किया जाना ही बेहतर है. दूसरी तरफ कांग्रेस प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता ने इसे मनमर्जी का फैसला बताया है. भूपेंद्र गुप्ता के मुताबिक जैसे प्रधानमंत्री का चयन सांसद और मुख्यमंत्री का चयन विधायक करते हैं उसी तरह मेयर का चयन भी पार्षदों के जरिए ही होना चाहिए.

ये भी पढ़ें: MP में नौतपा में आंधी के साथ हुई बारिश, Heat Wave से मिली राहत

PM नरेंद्र मोदी 2.0: एक साल पूरे होने पर BJP करेगी रैलियां, गिनाएगी उपलब्धियां
First published: May 30, 2020, 1:38 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading