कमलनाथ का दावा - 24 में से 22 सीट जीतेगी कांग्रेस, शिवराज बोले- दिल बहलाने के लिए ये ख्याल अच्छा है
Bhopal News in Hindi

कमलनाथ का दावा - 24 में से 22 सीट जीतेगी कांग्रेस, शिवराज बोले- दिल बहलाने के लिए ये ख्याल अच्छा है
शिवराज ने कमलनाथ से क्यों कहा 'दिल बहलाने के लिए ग़ालिब ये ख्याल अच्छा है! 

शिवराज (shivraj)ने कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा प्रदेश को तबाह करने वाले ऐसे दावे करें तो हंसी के अलावा और क्या आएगा?

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल. उपचुनाव (by elections) से पहले मध्य प्रदेश (madhya pradesh) की सियासत दिलचस्प होती जा रही है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बीच बयानों के तीर लगातार छोड़े जा रहे हैं. सियासत की इसी रस्साकसी में अब दोनों बयानों को लेकर आमने सामने हैं. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के एक बयान पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसते हुए कहा है दिल बहलाने के लिए ग़ालिब ये ख्याल अच्छा है. दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) ने दावा किया है कि कांग्रेस (congress) पार्टी 24 में से करीब 22 सीट जीतेगी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उनके इसी दावे पर चुटकी ले रहे थे. शिवराज (shivraj)ने कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा प्रदेश को तबाह करने वाले ऐसे दावे करें तो हंसी के अलावा और क्या आएगा ?

दांव पर लगी है साख
उपचुनाव में दोनों दिग्गज नेता शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ की साख दांव पर लगी हुई है. सीटों का थोड़ा सा हेरफेर भी राजनीति के खेल को पूरी तरह पलट सकता है. उपचुनाव में कुल 24 सीटों पर वोट डाले जाने हैं. इनमें से 22 वह सीटें हैं जहां पर कांग्रेस के बागी विधायकों ने सिंधिया का साथ देकर पहले अपनी विधायकी से इस्तीफा दिया और फिर बीजेपी में शामिल हो गए. ऐसे में अब देखना यह दिलचस्प होगा कि आखिर कभी कांग्रेस में रहे 22 विधायक बीजेपी से टिकट लेने के बाद मैदान में होंगे तो सियासत का पलड़ा किस पर भारी होगा.

कमलनाथ VS शिवराज



2018 तक तीन बार मध्यप्रदेश की सत्ता पर काबिज रहने के बाद विधानसभा चुनाव में कमलनाथ ने ही शिवराज को सत्ता से बाहर करने का काम किया था सरकार चलने के 15 महीने बाद ही पूरी तरह से बदले सियासी घटनाक्रम में कमलनाथ को कुर्सी छोड़नी पड़ी और शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काविज हुए हालांकि दोनों नेता सियासी तकरार के बाद भी कई बार एक दूसरे के घर जाकर आपस मे मुलाकात करते रहे हैं लेकिन यह किसी से छिपा नहीं है कि दोनों के बीच उपचुनाव से पहले तकरार अब चरम पर है



ये भी पढ़ें-

सरकारी बंगले के लिए मारामारी : साधौ पहले सरकार के पास जाएं फिर अदालत आएं-HC

कभी कमलनाथ के साथ थे,अब उन्हीं पर कांग्रेस को बर्बाद करने के लगा रहे आरोप
First published: May 29, 2020, 5:41 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading