होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /OMG : पुलिस से लूटे गए एके-47 जैसे हाईटेक हथियारों का इस्तेमाल कर रहे हैं नक्सली

OMG : पुलिस से लूटे गए एके-47 जैसे हाईटेक हथियारों का इस्तेमाल कर रहे हैं नक्सली

Naxal Encounter : पुलिस फोर्स 5 महीने में 2 बड़ी मुठभेड़ में 5 नक्सलियों का एनकाउंटर कर चुकी है. हॉकफोर्स और पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है

Naxal Encounter : पुलिस फोर्स 5 महीने में 2 बड़ी मुठभेड़ में 5 नक्सलियों का एनकाउंटर कर चुकी है. हॉकफोर्स और पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है

Naxal Search Operation ;मंडला में आज नक्सली एनकाउंटर में दो इनामी हार्डकोर नक्सली मारे गए. दोनों की शिनाख्त हो गयी है. ...अधिक पढ़ें

भोपाल. मंडला में मंगलवार को हुए नक्सली एनकाउंटर में पुलिस मुख्यालय ने बड़ा खुलासा किया है. एनकाउंटर में मारे गए नक्सलियों के पास से एके-47 जैसे हाईटेक हथियार मिले हैं. जांच में पता चला है कि यह हथियार पुलिस से लूटे गए थे. हथियार पहचान में नहीं आएं इसलिए नक्सली इनका बैच नंबर मिटा देते थे. मारे गए दोनों नक्सलियों की गिरफ्तारी पर लाखों रुपये का इनाम था.

मंडला में आज नक्सली एनकाउंटर में दो इनामी हार्डकोर नक्सली मारे गए. दोनों की शिनाख्त हो गयी है. मारे गए नक्सलियों में से एक गणेश, कमेटी मेंबर और एमएमसी जोन का समन्वयक प्रभारी था. उसके सिर पर 29 लाख का इनाम रखा गया था. दूसरा नक्सली राकेश भोरमदेव एरिया कमेटी का मेंबर था और एमएमसी जोन का कमांडर था. सरकार ने इस पर 14 लाख का इनाम घोषित किया था. इस पर कई अपराध दर्ज हैं.

2 नक्सली ढेर, महिला भाग निकली
हॉकफोर्स की नक्सली मुठभेड़ के बाद पीएचक्यू की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई. इसमें नक्सल विरोधी अभियान आईजी साजिद फरीद शापू ने ने जानकारी दी कि मंडला जिले में हॉक फोर्स ने एनकाउंटर में दो नक्सलियों को मार गिराया है. एक महिला नक्सली अपने हथियार छोड़कर भाग निकली. इलाके में सर्चिंग जारी है और बाकी नक्सलियों की तलाश की जा रही है. यह मुठभेड़ करीब आधे घंटे तक चली.

ये भी पढ़ें- MP : छत्तीसगढ़ सीमा पर मुठभेड़ में दो इनामी हार्डकोर नक्सली ढ़ेर, महिला साथी भाग निकली

नक्सलियों पर था लाखों का इनाम
साजिद फरीद शापू ने कहा मारा गया नक्सली नक्सली गणेश डिविजन कमेटी मेंबर और एमएमसी जोन का समन्वयक, प्रभारी था. उस पर 29 लाख का इनाम था. उस पर एमपी छत्तीसगढ़ महाराष्ट्र में 12 से ज्यादा मामले दर्ज थे. दूसरा मारा गया नक्सली राकेश भोरमदेव एरिया कमेटी का मेंबर, एमएमसी जोन का कमांडर था. उस पर 14 लाख का इनाम था. उस पर भी कई अपराध दर्ज थे.

नक्सलियों के पास पुलिस के हथियार
शापू ने बताया मारे गए नक्सली राशन लेने के लिए आए थे. इनके पास एके 47, 315 रायफल, कई डायरी, लिट्रेचर मिला है. सभी नक्सली अपनी वर्दी में थे. 10 साल पहले कई घटनाओं में पुलिस से नक्सलियों ने हथियार लूटे थे. इन हथियारों का इस्तेमाल मौजूदा नक्सली कर रहे हैं. जब उनसे हथियार की बरामदगी होती है तो उसकी जांच पड़ताल भी की जाती है. उसमें पता चलता है कि वो पुलिस से लूटे गए हथियार हैं.

फंडिंग नहीं होने से नक्सली परेशान …
पुलिस के अनुसार नक्सलियों का फंडिंग का साधन फिरौती और तेंदूपत्ता होता है. पुलिस फोर्स 5 महीने में 2 बड़ी मुठभेड़ में 5 नक्सलियों का एनकाउंटर कर चुकी है. हॉकफोर्स और पुलिस की कार्रवाई लगातार जारी है. उन्होंने कहा फंडिंग के साधन खत्म होने की वजह से अब नक्सली बौखला गए हैं. इसलिए अपने मूवमेंट को बढ़ा रहे हैं.

Tags: Anti naxal operation, Madhya pradesh latest news, Naxal Movement in India, Naxal search operation

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें