ATS कांस्टेबल की हत्या मामले में सिमी आतंकी को उम्र कैद की सजा

विशेष सत्र न्यायधीश गिरीशी दिक्षित की अदालत ने हत्या, दो पुलिस कर्मियों पर जानलेवा हमला और विधि विरूद्ध क्रिया कलाप अधिनियम के तहत फरहत को उम्र कैद की सजा सुनाई है.

Manoj Kumar Rathor | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 16, 2019, 9:43 AM IST
ATS कांस्टेबल की हत्या मामले में सिमी आतंकी को उम्र कैद की सजा
सांकेतिक तस्वीर
Manoj Kumar Rathor | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 16, 2019, 9:43 AM IST
मध्य प्रदेश के रतलाम में आठ साल पहले एटीएस कांस्टेबल शिवप्रताप की गोली मारकर हत्या करने के मामले में फैसला आ गया है. जिला कोर्ट ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भोपाल सेंट्रल जेल में बंद सिमी कैदी फरहत को उम्रकैद की सजा सुनाई है. विशेष सत्र न्यायधीश गिरीशी दिक्षित की अदालत ने हत्या, दो पुलिस कर्मियों पर जानलेवा हमला और विधि विरूद्ध क्रिया कलाप अधिनियम के तहत फरहत को  उम्र कैद की सजा सुनाई है.

आपको बता दें कि 2011 में रतलाम में फरहत ने जाकिर के साथ मिलकर शिपप्रताप सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी.  साथ ही कांस्टेबल जितेंद्र, सब इंस्पेक्टर मनीष दुबे पर जानवेला हमला कर घायल कर दिया था.

विशेष जज एनआईए गिरीश दीक्षित की कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए आरोपी फरहत को उम्रकैद की सजा और दो हजार का जुर्माना लगाया. वहीं फरहत के एक साथी जाकिर की मौत हो चुकी है. जबिक एक अन्य आरोपी निजामुद्दीन सबूतों के अभाव में बरी हो गया. आरोपी फरहत सिमी आतंकी है और भोपाल सेंट्रल जेल में दूसरे मामलों में भी सजा काट रहा है.



ये भी पढ़ें- बीजेपी के मंथन में 15 सांसदों के ख़िलाफ बोले लोकल नेता, आज दिल्ली मेे बैठक

ये भी पढ़ें - कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की शिवराज और उनके साथियों की शिकायत

ये भी पढ़ें - चुनाव आयोग से बीजेपी नेता बोले-सीएम ने मंत्रालय को कांग्रेस भवन बना लिया है
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...