• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP में हालात खराब : हजारों लोग बाढ़ में फंसे, राहत और बचाव कार्य में उतरी सेना

MP में हालात खराब : हजारों लोग बाढ़ में फंसे, राहत और बचाव कार्य में उतरी सेना

श्योपुर, दतिया में आर्मी भी बोट ऑपरेशन के जरिए लोगों को बचाने में जुटी हुई है.

श्योपुर, दतिया में आर्मी भी बोट ऑपरेशन के जरिए लोगों को बचाने में जुटी हुई है.

FLOOD IN MP : सैकड़ों गांव और हजारों लोग बाढ़ में घिरे हुए हैं. सड़क संपर्क टूट चुका है. राहत और बचाव के काम में स्थानीय प्रशासन, शासन, SDRF और NDRF की टीम के बाद अब सेना उतर चुकी है.

  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) के ग्वालियर -चंबल इलाके में बाढ़ अपना रौद्र रूप दिखा रही है. यहां हालात बिगड़ चुके हैं. राहत और बचाव कार्य के लिए सेना ने मोर्चा संभाल लिया है. श्योपुर, शिवपुरी, दतिया और ग्वालियर में हजारों लोग बाढ़ में घिरे हुए हैं. करीब 100 गांव खाली करा लिए गए हैं. सीएम शिवराज हालात पर नजर बनाए रहे. वो देर रात मंत्रालय में बैठकर लगातार इन जिलों के अधिकारियों से लेकर NDRF, सेना से संपर्क बनाकर पल पल की जानकारी लेते रहे. मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बाढ़ प्रभावित इलाकों में चल रहे राहत और बचाव कार्य की जानकारी दी.

ग्वालियर चंबल इलाके में भारी बारिश और बाढ़ के कारण हालात बेहद खराब हैं. श्योपुर से शुरू हुआ सिलसिला शिवपुरी, दतिया, गुना, ग्वालियर के बड़े इलाके और भिंड मुरैना तक पहुंच गया है. सैकड़ों गांव और हजारों लोग बाढ़ में घिरे हुए हैं. सड़क संपर्क टूट चुका है. राहत और बचाव के काम में स्थानीय प्रशासन, शासन, SDRF और NDRF की टीम के बाद अब सेना उतर चुकी है.

सीएम ने लगातार की मॉनिटरिंग
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सुबह से लेकर देर रात तक राहत और बचाव कार्य की मॉनिटरिंग करते रहे. वो देर रात करीब 10:30 बजे मंत्रालय के स्टेट सिचुएशन रूम में पहुंचे और यहां से बाढ़ ग्रस्त इलाकों में अफसरों से राहत और बचाव कार्य का फीडबैक लिया. सीएम शिवराज ने ग्वालियर चंबल संभाग के आईजी कमिश्नर और बाढ़ ग्रस्त जिलों के कलेक्टर, एसपी, डीजी होमगार्ड, एयर फोर्स के रेस्क्यू कैप्टन से भी राहत और बचाव कार्य की जानकारी ली. सीएम ने बाढ़ वाले जिलों के कलेक्टरों से एक के बाद एक फीडबैक लिया.

सेना ने शुरू किया राहत और बचाव कार्य
अफसरों ने बताया कि शिवपुरी के पोहरी में पानी कम हो रहा है. नदी का स्तर भी स्थिर है. श्योपुर में लोगों के अभी भी बाढ़ के पानी से घिरे होने की जानकारी आई. SDRF और NDRF की टीम लगातार बचाव कार्य करने में लगी है. सेना भी उतर आयी है. एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर सुबह से काम में लगे थे. हालांकि बादल काफी नीचे होने के काऱण रेस्क्यू काम में दिक्कत आ रही थी. अफसरों ने बताया कि दतिया के पाली गांव में लोग फंसे हुए हैं और उन्हें सुरक्षित निकालने की कोशिश जारी है. श्योपुर, दतिया में आर्मी भी बोट ऑपरेशन के जरिए लोगों को बचाने में जुटी हुई है. सेना के जवान नरवर और पोहरी क्षेत्र में पहुंचकर देर रात से रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गए हैं. 

शिवपुरी में 700 लोगों को निकाला
शिवपुरी कलेक्टर ने बताया कि जल स्तर कम हो रहा है. 700 से ज्यादा लोगों को रेस्क्यू कर निकाल लिया गया है. कलेक्टर दतिया ने बताया कि पानी और दूसरे बाढ़ प्रभावित इलाकों में सेना के अधिकारी पहुंचकर राहत और बचाव कार्य में जुट गए हैं. जीवन रक्षक बोट, चिकित्सा उपकरण भी पहुंचाए जा रहे हैं ताकि बाढ़  रेस्क्यू के दौरान यदि कोई घायल होता है, तो उसको तत्काल इलाज दिया जा सके.

पीएम मोदी को सीएम शिवराज ने दी जानकारी
इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बाढ़ प्रभावित इलाकों में चल रहे राहत और बचाव कार्य की जानकारी दी. शिवराज की मंगलवार को पीएम मोदी से दो बार फोन पर चर्चा हुई. सीएम शिवराज ने बताया कि अब तक 2000 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बचाया गया है. सेना, SDRF और NDRF का रेस्क्यू ऑपरेशन रात भर जारी रहेगा. एयर फोर्स सुबह रेस्क्यू शुरू करेगा. पीएम मोदी ने कहा केंद्र सरकार मध्य प्रदेश सरकार के साथ प्रदेश की जनता के लिए हर संभव मदद पहुंचाएगा.

सीएम ने कहा समझदारी से लें काम
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से बातचीत करते हुए कहा कि मुझे विश्वास है आप लोगों के प्रयास सफल होंगे. सेना की भूमिका सदैव सराहनीय रही है. SDRF और NDRF का सहयोग लें. यह परीक्षा की घड़ी है. अधिकारी युक्ति और बुद्धि से कार्य लेते हुए स्थिति को सामान्य बनाने में जुट जाएं. सीएम ने कहा आपदा से निपटने की तैयारी रखें ताकि स्थिति असामान्य हो तो सामना किया जा सके.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज