सड़क पर गंदगी फैलाना मना है : क्लीन केपिटल भोपाल नगर निगम ने वसूला 10 लाख का स्पॉट फाइन

ये पहला मौका है कि गुटख़े के लिए मशहूर इस शहर पान-गुटखा खाकर गंदगी करने वालों पर भी जुर्माना ठोका गया है.

Jitendra Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 22, 2019, 7:07 PM IST
सड़क पर गंदगी फैलाना मना है : क्लीन केपिटल भोपाल नगर निगम ने वसूला 10 लाख का स्पॉट फाइन
सड़क पर थूकना मना है
Jitendra Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 22, 2019, 7:07 PM IST
देश की सबसे क्लीनेस्ट केपिटल के तमगे वाले भोपाल शहर में गंदगी करने वालों के खिलाफ नगर निगम सख्त हो गया है. वो खुले में शौच करने वालों से उठक बैठक लगवा रहा है. सड़क पर थूकने या गंदगी फैलाने वालों पर जुर्माना ठोक रहा है. ऐसा करके उसने साफ संदेश दे दिया है कि शहर को साफ बनाए रखने के लिए ज़रा सी भी लापरवाही या चूक बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

भोपाल नगर निगम ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए अभी से कमर कस ली है. शहर में गंदगी फैलाने पर स्पॉट फाइन वसूला जा रहा है. हालिया स्वच्छता सर्वेक्षण में भोपाल शहर को देश की सबसे साफ राजधानी का दर्जा मिला था. इस तमगे को बरकरार रखने के लिए नगर निगम का अमला पहले लोगों को समझा रहा है. फिर चेतावनी दे रहा है और अगर फिर भी नहीं माने तो आखिरी में जुर्माना वसूल रहा है. 8 महीने में वो ऐसे लोगों से 10 लाख से ज़्यादा का जुर्माना वसूल चुका है.

रिकॉर्ड तोड़ वसूली
नगर निगम के स्वाथ्य विभाग ने शहर के सभी ज़ोन के लिए टीम बनायी हैं. टीमों ने जुलाई महीने में रिकॉर्ड फाइन वसूला. निगम के ये दल शहर के मुख्य बाज़ारों और मुख्य मार्गो पर घूम-घूम कर जायज़ा ले रहे हैं. जो भी थूकता या गंदगी फैलाता दिख रहा है उससे मौके पर ही फाइन वसूला जा रहा है. नगर निगम की टीम ने 10 लाख 10 हजार 400 रुपए का स्पॉट फ़ाइन वसूला.

जर्दे के शहर में गुटख़ा थूकने पर बैन
ये पहला मौका है कि गुटख़े के लिए मशहूर इस शहर पान-गुटखा खाकर गंदगी करने वालों पर भी जुर्माना ठोका गया है. इससे पहले केबल स्टेट ब्रिज पर गंदगी करने वालों पर स्पॉट फाइन किया गया था. सार्वजनिक स्थानों पर गंदगी फैलाना, सड़क एवं गलियों में कचरा फेंकना, सार्वजनिक स्थल पर थूकना, खुले में स्नान करना, खुले में मूत्र विसर्जन करना, शौच करना और खुले में बर्तन-कपड़े धोना जुर्माने की श्रेणी में है.
ये किया तो भरना होगा जुर्माना
Loading...

सड़कों एवं गलियों में कचरा फेंकने पर 500 रुपए
सार्वजनिक स्थल पर थूकना 250
खुले में स्नान पर 300
खुले में मूत्र विसर्जन पर 500
खुले में शौच पर 500
खुले में बर्तन-कपड़े धोने पर 500
थोक कचरा फेंकने पर 1000
कचरे के साथ मलबा डालने पर 2000
सूखे कचरे को अलग कर नहीं देने पर 200
गार्डन के हरे कचरे को खुले में फेंकने पर 200
खुले में कचरा जलाने पर 500
पोल्ट्रीफार्म का कचरा अलग न देने पर 750
दुकानों और ठेलों के बाहर डस्टबिन न रखने पर 750
घर-गली साफ न रखने पर 1000
पालतू जानवरों द्वारा गंदगी करने पर 500
और सार्वजनिक स्थल पर कोई कार्यक्रम करने के 4 घंटे में सफाई न करने पर जुर्माना लगाया जाएगा.
जुलाई में कार्रवाई
जोन 1 में 43250,
जोन 2 में 29250,
जोन 3 में 20400,
जोन 4 में 68450,
जोन 5 में 45850,
जोन 6 में 66350,
जोन 7 में 46150,
जोन 8 में 20250,
जोन 9 में 69300,
जोन 10 में 30000,
जोन 11 में 21050,
जोन 12 में 83400,
जोन 13 में 72700,
जोन 14 में 79050,
जोन 15 में 102800,
जोन 16 में 91100,
जोन 17 में 26700,
जोन 18 में 80600
और जोन 19 में 13750 रुपए स्पॉट फाइन के रूप में वसूल किए गए.

जनवरी से जुलाई तक हुई कार्रवाई में सबसे अधिक वसूली जुलाई में हुई. जनवरी में 134860, फरवरी में 73800, मार्च 250860, अप्रैल में 200100, मई में 316050, जून में 519670 और जुलाई में 1010400 रुपए स्पॉट फाइन के रूप में वसूल किए गए.

ये भी पढ़ें-मुर्दाघर में फ्रीजर से टपक रहे थे कीड़े, खोलकर देखा तो...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 6:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...