पूर्व सीएम कमलनाथ बोले- शिवराज ने सिंधिया को भी झूठ बोलना सिखा दिया

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा, मैंने सोचा था 15 साल बाद 2018 के विधानसभा चुनाव में शिवराज ने सबक सीख लिया होगा. लेकिन ये शिवराज (shivraj) झूठ बोलने से बाज आने वाले नहीं हैं. 15 महीने से ये बीजेपी वाले बोल रहे थे कि कर्ज माफ नहीं किया. जबकि हकीकत ये है कि हमने कर्जमाफ किया
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा, मैंने सोचा था 15 साल बाद 2018 के विधानसभा चुनाव में शिवराज ने सबक सीख लिया होगा. लेकिन ये शिवराज (shivraj) झूठ बोलने से बाज आने वाले नहीं हैं. 15 महीने से ये बीजेपी वाले बोल रहे थे कि कर्ज माफ नहीं किया. जबकि हकीकत ये है कि हमने कर्जमाफ किया

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा, मैंने सोचा था 15 साल बाद 2018 के विधानसभा चुनाव में शिवराज ने सबक सीख लिया होगा. लेकिन ये शिवराज (shivraj) झूठ बोलने से बाज आने वाले नहीं हैं. 15 महीने से ये बीजेपी वाले बोल रहे थे कि कर्ज माफ नहीं किया. जबकि हकीकत ये है कि हमने कर्जमाफ किया

  • Share this:
भोपाल. किसान कर्जमाफी और कृषि बिल के मुद्दे पर पीसीसी चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है.कमलनाथ ने कहा बीजेपी के झूठ की पोल खुल गयी है. खुद बीजेपी (bjp) के मंत्री विधानसभा में स्वीकार कर रहे हैं कि हमने किसानों का कर्ज माफ किया. शिवराज ने सिंधिया को भी इतनी जल्दी झूठ बोलना सिखा दिया.

गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, मैंने सोचा था 15 साल बाद 2018 के विधानसभा चुनाव में शिवराज ने सबक सीख लिया होगा. लेकिन ये शिवराज झूठ बोलने से बाज आने वाले नहीं हैं. 15 महीने से ये बीजेपी वाले बोल रहे थे कि कर्ज माफ नहीं किया. जबकि हकीकत ये है कि हमने कर्जमाफ किया और कर भी रहे थे. हमारे पास 50 लाख आवेदन आए थे, कुछ लोग पात्र नहीं थे जो पात्र थे उन लोगों का हम कर्जमाफ कर रहे थे. उनके मंत्री ही विधानसभा में कह रहे हैं कर्जमाफ हुआ.





सिंधिया भी बोलने लगे झूठ
कमल नाथ ने सिंधिया पर भी निशाना साधते हुए कहा,शिवराज ने बहुत जल्दी ही सिंधिया को भी झूठ बोलना सिखा दिया है. शिवराज संबल योजना के संबंध में भी झूठ बोल रहे हैं. हमने योजना का नाम नया सवेरा कर फर्जी लोगों को बाहर किया था. ये बीजेपी के लोग मीडिया और झूठ की राजनीति करते हैं. जनता आने वाले वक्त में सच्चाई का साथ देगी.

कृषि बिल पर बोले कमल नाथ
कृषि बिल पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा. कमल नाथ के मुताबिक मोदी सरकार ने आज तक एक भी कदम किसानों के लिए नहीं उठाया. सबसे ज्यादा किसानों की आत्म हत्या मोदी और शिवराज सरकार के दौरान हुई. केवल बड़े व्यापारियों को फायदा पहुंचाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार कदम उठा रहे हैं. कृषि बिल से पहले सरकार को किसान संगठनो से चर्चा करना चाहिए थी. जिन्होंने कभी गांव नहीं देखा वो किसानों की बात करते हैं.

शिवराज ने किया पलटवार
कृषि बिल पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के आरोपों का जवाब दिया.  शिवराज के मुताबिक कांग्रेस किसान विरोधी है. कृषि बिल किसानों के हित के लिए है. आखिर कांग्रेस को क्या आपत्ति है किसान घर से फसल बेच सकता है. झूठ बोलना भ्रम फैलाना यह कांग्रेस की फितरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज