लाइव टीवी

साध्वी प्रज्ञा के बाद हेमंत करकरे को लेकर सुमित्रा महाजन का बयान, बढ़ी सियासी गर्मी
Indore News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: April 30, 2019, 9:56 AM IST
साध्वी प्रज्ञा के बाद हेमंत करकरे को लेकर सुमित्रा महाजन का बयान, बढ़ी सियासी गर्मी
सांकेतक तस्वीर

सुमित्रा महाजन ने आरोप लगाया कि उनके पास कोई सबूत नहीं है, लेकिन उन्होंने सुना है कि कांग्रेस नेता और भोपाल से पार्टी के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह करकरे के दोस्त थे.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के इंदौर से आठ बार की सांसद व वर्तमान लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने शहीद हेमंत करकरे की शहादत को लेकर अहम बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि करकरे को शहीद के रूप में ही जाना जाएगा क्योंकि वे ऑन ड्यूटी आतंकियों के गोली का शिकार हुए थे. लेकिन, सुमित्रा महाजन ने कहा कि महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) के प्रमुख के रूप में करकरे की भूमिका संदेह से परे नहीं थी.

उन्होंने कहा “हेमंत करकरे के दो पहलू हैं. पहला कि वह शहीद हैं क्योंकि वह ड्यूटी के दौरान मारे गये थे, लेकिन कहें बतौर पुलिस अधिकारी उनकी भूमिका सही नहीं थी, तो हम कहेंगे कि उनकी भूमिका सही नहीं थी.

सुमित्रा महाजन ने आरोप लगाया कि उनके पास कोई सबूत नहीं हैं, लेकिन उन्होंने सुना है कि कांग्रेस नेता और भोपाल से पार्टी के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह करकरे के दोस्त थे. उन्होंने कहा कि जब दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश के सीएम थे तो वह आरएसएस पर बम बनाने और आतंकी संगठन होने का अकसर आरोप लगाया करते थे. उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र एटीएस द्वारा इंदौर से की गई गिरफ्तारी पूर्व सीएम दिग्विजय के इशारे पर हुई थी.

इससे पहले मध्य प्रदेश के भोपाल संसदीय सीट से चुनाव लड़ रही साध्वी प्रज्ञा ने शहीद आईपीएस अधिकारी हेमंत करकरे पर विवादित टिप्पणी की थी. जिसके बाद राजनीतिक गलियारों में हड़कंप मच गया था.



ये भी पढ़ें ...जब केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने लिपटकर रो पड़ीं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर!

ये भी पढ़ें- मुखिया की हार्ट अटैक से अचानक मौत, घर वालों ने मतदान कर पूरी की अंतिम इच्छा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 30, 2019, 8:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर