फ्रेंड का कैरेक्टर चेक करने बेंगलुरु से भोपाल आई थी किशोरी, पर दोनों में झगड़ा हो गया

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 27, 2019, 1:59 PM IST
फ्रेंड का कैरेक्टर चेक करने बेंगलुरु से भोपाल आई थी किशोरी, पर दोनों में झगड़ा हो गया
फ्रेंड का चरित्र चेक करने बेंगलुरु से भोपाल आई थी किशोरी, पर हो गया झगड़ा (सांकेतिक तस्वीर)

साेशल मीडिया (Social Media) पर बने दोस्त का कैरेक्टर चेक (Character check) करने के लिए एक किशाेरी (teenager) बेंगलुरु (Bengaluru) से फ्लाइट पकड़कर सीधा भाेपाल (Bhopal) आ गई.

  • Share this:
साेशल मीडिया (Social Media) पर बने एक दोस्त का कैरेक्टर चेक (Character check) करने के लिए एक किशाेरी (teenager) बेंगलुरु (Bengaluru) से फ्लाइट पकड़कर सीधा भाेपाल (Bhopal) आ गई. इस दौरान वह अपने 19 वर्षीय फ्रेंड से भी मिली, पर दाेनाें में झगड़ा हो गया. इसके बाद किशोरी इंटर स्टेट बस टर्मिनल (आईएसबीटी) पहुंच गई. यहां पर किशाेरी काे अकेले घूमता देखकर पुलिस के मुखबिर ने 100 नंबर पर डायल कर सूचना दी और उसके बाद किशाेरी काे भोपाल के गोविंदपुरा थाने पहुंचाया गया.

बाल कल्याण समिति ने पिता को बुलाकर दी ये सलाह-'बच्चों पर रखें नजर'

दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक गोविंदपुरा थाना पुलिस ने किशाेरी काे बाल कल्याण समिति (Child Welfare Committee) के सामने पेश किया, जहां समिति ने किशाेरी के पिता को बुलाकर उन्हें उनकी बेटी सौंप दी. साेमवार काे पिता अपनी बेटी काे लेकर ट्रेन से वापस बेंगलुरु के लिए रवाना हाे गए.

बाल कल्याण समिति को किशोरी को दिया ये ज्ञान

बाल कल्याण समिति द्वारा पूछे जाने पर किशाेरी ने बताया कि वह शनिवार काे अपने सोशल मीडिया फ्रेंड पर बने एक मित्र से मिलने भाेपाल आई थी. उसका ये सोशल मीडिया फ्रेंड रीवा का रहने वाला है. वह यह जानना चाहती थी कि जिससे वह दाेस्ती कर रही है, वह हकीकत में कैसा है. किशोरी ने समिति काे बताया कि सोशल मीडिया फ्रेंड से वह पहली बार मिली है. फ्रेंड के रुखे व्यवहार के कारण उसका झगड़ा हो गया. किशोरी ने बताया कि वह अपने फ्रेंड से मिलने के लिए इतनी दूर से आई थी, लेकिन उसका फ्रेंड उसे देखकर नाराज हाे गया. इसके बाद उस पर वापस जाने के लिए दबाव बनाने लगा. इस कारण दाेनों के बीच झगड़ा हाे गया और किशोरी नाराज होकर आईएसबीटी (ISBT) पहुंच गई.

क्राइम रिपोर्ट-crime report
फ्रेंड के रुखे व्यवहार के कारण किशोरी का झगड़ा हो गया (सांकेतिक तस्वीर)


बहरहाल, इस पर बाल कल्याण समिति ने पिता काे समझाइश दी है कि वे अपनी बच्ची पर नजर रखें. इसके साथ ही किशाेरी काे भी समझाया है कि वह अपनी 10वीं की पढ़ाई पर ध्यान दे.  बाल कल्याण समिति के सदस्य राजीव जैन ने बताया कि किशोरी अपने साेशल मीडिया (Social Media) पर बने फ्रेंड का चरित्र चेक करना चाहती थी. उन्होंने कहा कि उसका फ्रेंड अच्छा था, नहीं तो ऐसे मामले में अक्सर बड़ी घटनाएं घट जाती हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें:- बच्चे के पिता को ही यात्रियों ने समझ लिया 'बच्चा चोर' 

कांग्रेस जादू-टोने में विश्वास नहीं करती- पीसी शर्मा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 27, 2019, 11:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...