Home /News /madhya-pradesh /

करोड़ों खर्च के बाद भी जारी है शहर में जानलेवा कुत्तों का आतंक

करोड़ों खर्च के बाद भी जारी है शहर में जानलेवा कुत्तों का आतंक

फाइल फोटो

फाइल फोटो

मध्यप्रदेश के भोपाल में नगर निगम के द्वारा करोड़ों खर्च करने के बावजूद कु्त्तों का आतंक लगातार जारी है.

मध्यप्रदेश के भोपाल में कुत्तों के आतंक को लेकर भले ही दावे कितने ही किए हों लेकिन पिछले 10 दिनों पर बच्चों पर डॉग्स अटैक ने साबित कर दिया है कि ये दावे खोखले ही हैं, ऐसे में निगम की मुहिम पर सवाल उठना लाजिम है कि जहां करोड़ों रुपए आवारा कुत्तों की नसबंदी और वैक्सीनेशन पर सालाना खर्च होते हैं तो फिर क्या वजह है कि आवारा कुत्तों की संख्या बढ़ती जा रही है.

दरअसल भोपाल में कुछ दिन पहले एक मासूम की आधा दर्जन कुत्तों ने नोच-नोच कर जान ले ली थी, इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद प्रशासन जागा, ढेरों मीटिंग हुई और योजना बनाई गई, लेकिन ये मीटिंग कितनी खानापूर्ति की थी, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है पिछले दिनों 10 से ज्यादा लोगों को कुत्तों ने अपना निशाना बनाया, जिसमें मासूम बच्चे भी शामिल हैं, ऐसे में निगम के उन दावों पर सवालिया निशान खड़े होते है

वहीं इन सब के बावजूद नगर निगम के अनुसार आवारा कुत्तों से जुड़ी समस्या पर निगम सालाना 3.30 करोड़ रुपए खर्च करती है. साथ ही निगम का कहना है कि 2 करोड़ रुपए एबीसी और कुत्तों के वेक्सीनेशन खर्चा किया जाता है. रैबिज के वेक्सीनेशन पर औसतन सालाना एक करोड़ खर्च और डॉग स्क्वॉड में लगभग 40 सदस्यीय टीम और 6 डॉग कैचर व्हीकल पर 60 लाख रुपए खर्च किए जा रहे हैं. वहीं निगम कमिश्नर का कहना है कि कुत्तों की वैक्सीनेशन का काम जोरों पर है और उनकी नसबंदी को भी लगातार मॉनिटर किया जा रहा है. साथ ही जल्द ही कुत्तों को रखने के लिए शेल्टर होम बनाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें- राजधानी भोपाल में आवारा कुत्तों का आतंक : 6 साल के बच्चे को नोंच-नोंचकर मार डाला

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Tags: Bhopal news, Madhya pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर