लाइव टीवी

Honey Trap: आरोपी के पति ने कहा, हां मेरी पत्नी के हाई प्रोफाइल मंत्रियों से संबंध, लेकिन...

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 4, 2019, 4:53 PM IST
Honey Trap: आरोपी के पति ने कहा, हां मेरी पत्नी के हाई प्रोफाइल मंत्रियों से संबंध, लेकिन...
आरोपी महिला के पति ने कहा-मेरी पत्नी ने कुछ गलत नहीं किया. (प्रतीकात्मक फोटो)

आरोपी महिला के पति ने कहा,मेरा कोई एनजीओ नहीं है. ना ही मेरी पत्नी ने मुझे कोई टेंडर दिलवाया. एफआईआर में मेरी पत्नी का नाम नहीं है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के चर्चित हनी ट्रैप मामले (Honey Trap Case) में भोपाल (Bhopal) के नेहरू नगर से गिरफ्तार (Arrest) एक आरोपी महिला के पति ने बड़ा खुलासा किया है. न्यूज़ 18 से बातचीत में उसने माना कि मेरी पत्नी के कई हाई प्रोफाइल मंत्रियों से संबंध थे. लेकिन मेरी पत्नी ने कभी ग़लत काम नहीं किया. हमने कभी इसका गलत इस्तेमाल नहीं किया और न ही कभी इसका फायदा उठाया. उसने जांच पर सवाल उठाया कि जब एफआईआर में मेरी पत्नी का नाम नहीं है तो फिर किस आधार पर उसकी गिरफ्तारी (Arrest) हुई है. आखिर पुलिस (Police) किसके कहने पर काम कर रही है और किसे बचाने के लिए हमें फंसा रही है.

एसआईटी पर उंगली
हनीट्रैप मामले में नेहरू नगर से एक आरोपी महिला को गिरफ्तार किया गया था. ये आरोपी महिला अब इंदौर जेल में बंद है. महिला के पति ने अपनी पत्नी को बेकसूर बताया. उसका कहना है जब उसकी पत्नी को पकड़ा गया था, तब वो भी उसे साथ था. मिनाल रेसीडेंसी स्थित आरोपी महिला के घर से नहीं, बल्कि 14 लाख रुपये पड़ोसी से बरामद किए गए थे. पुलिस ने आरोपी महिला के पति और बेटे के पास से कई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जप्त की थीं, लेकिन पुलिस ने पति, बेटे और तीन पड़ोसियों को छोड़ दिया.

आरोपी महिला के पति का खुलासा

आरोपी महिला के पति ने कहा,मेरा कोई एनजीओ नहीं है. न ही मेरी पत्नी ने मुझे कोई टेंडर दिलवाया.  एफआईआर में मेरी पत्नी का नाम नहीं है. उसकी कोई पहचान भी नहीं हुई. मिनाल में रहने वाली महिला ने मेरी पत्नी का नाम लिया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. इस आरोपी महिला के पति ने ये भी कहा कि रिवेरा टाउन में रहने वाली महिला से हमारा कोई परिचय नहीं है. उस आरोपी महिला के भाई के एनजीओ को करोड़ों के काम मिले हैं. मिनाल की आरोपी महिला ने कई रसूखदारों को फंसाया है. पुलिस किसी दबाव में हमें फंसा रही है.मिनाल रेसीडेंसी और रिवेरा टाउन से गिरफ्तार आरोपी महिलाओं के कई बड़े नेताओं और अफसरों से संपर्क थे.

एसआईटी के पुराने अधिकारियों पर शक
तीन बार बनी एसआईटी को लेकर अब कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने भी सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा एसआईटी के पुराने अधिकारी-कर्मचारी जानकारी लीक कर सकते हैं. उनके पास केस से जुड़ी सभी जानकारियां हैं. इसलिए नए एसआईटी चीफ को इन अधिकारियों कर्मचारियों पर नजर रखनी चाहिए.
Loading...

ये भी पढ़ें-हनी ट्रैप: नेता-अफसरों के पास भेजीं कम उम्र की लड़कियां, घेरे में 13 रसूख़दार

EXCLUSIVE: Honey Trap में फंसे MP के पूर्व सांसद की बनायीं 30 अश्‍लील CD

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 12:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...