सवर्ण आरक्षण के लिए सरकार ने उठाया कदम, कलेक्ट्रेट से बनेंगे आय प्रमाण पत्र

मध्यप्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है, क्योकि प्रदेश के युवाओं को केंद्रीय शिक्षण संस्थान और नौकरियों में सवर्ण आरक्षण का फायदा अब जल्द ही मिलने लगेगा.

News18 Madhya Pradesh
Updated: May 8, 2019, 12:01 PM IST
सवर्ण आरक्षण के लिए सरकार ने उठाया कदम, कलेक्ट्रेट से बनेंगे आय प्रमाण पत्र
सांकेतिक तस्वीर
News18 Madhya Pradesh
Updated: May 8, 2019, 12:01 PM IST
मध्यप्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है, क्योकि प्रदेश के युवाओं को केंद्रीय शिक्षण संस्थान और नौकरियों में सवर्ण आरक्षण का फायदा अब जल्द ही मिलने लगेगा. केंद्रीय शिक्षण संस्थाओं में प्रवेश में सवर्ण आरक्षण का प्रावधान होने के बाद प्रदेश के युवाओं को इसका फायदा मिल सकेगा. इसके लिए सरकार ने इस दिशा में पहला कदम उठाते हुए चुनाव आयोग की इजाजत मिलने के बाद कलेक्टरों को सवर्णों के आय प्रमाणपत्र बनाने के अधिकार दे दिए हैं. वे प्रमाण पत्र केंद्र सरकार की गाइडलाइन और प्रारूप के मुताबिक बनाएंगे. प्रमाणपत्र में परिवार और आय से संबंधित अन्य जानकारियां मौजूद रहेंगी.

जानकारी के मुताबिक सामान्य प्रशासन विभाग ने जिलों से आ रही आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की आय प्रमाणपत्र बनाए जाने की मांग के मद्देनजर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को प्रस्ताव भेजा था. कार्यालय ने आचार संहिता के मद्देनजर इस पर चुनाव आयोग से मार्गदर्शन मांगा था. रविवार को तस्वीर साफ हुई और देर रात प्रमाणपत्र बनाए जाने की अनुमति देते हुए सूचना विभाग को दी गई.



गौरतलब है कि कलेक्टर इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग से लगातार मार्गदर्शन मांग रहे थे, लेकिन मामला चुनाव आयोग में लंबित था. बता दें कि कि सवर्ण आरक्षण का लाभ आठ लाख रुपए तक सालाना आय वाले सवर्ण युवाओं को मिलेगा.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश में सवर्णों को मिलेगा 10 फीसदी और पिछड़ा वर्ग को 27% आरक्षण

यह भी पढ़ें- जानिए किन-किन जातियों को मिलेगा सवर्ण आरक्षण का लाभ?

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स   
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...