• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • CM कमलनाथ सरकार ने बुलाई आपात बैठक, बजट सत्र हो सकता है स्थगित!

CM कमलनाथ सरकार ने बुलाई आपात बैठक, बजट सत्र हो सकता है स्थगित!

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार के दिन कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है.

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार के दिन कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है.

विधानसभा का बजट सत्र 16 मार्च से शुरू होना है. इस बजट सत्र में फ्लोर टेस्ट को लेकर दोनों ही दलों के बीच खींचतान मची हुई है. बीजेपी (BJP)चाहती है कि विधानसभा में फ्लोर टेस्ट किया जाए तो वहीं सरकार (Kamal Nath Government) इस फ्लोर टेस्ट से बचने के प्रयास में दिख रही है.

  • Share this:
भोपाल. सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) खेमे के 6 मंत्रियों को पद से बर्खास्त करने के बाद अब मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamal Nath) अपनी सरकार बचाने के लिए रविवार के दिन भी कैबिनेट की बैठक आयोजित कर रहे हैं. करोना वायरस के कहर से जहां दुनिया के सभी देश प्रभावित हुए हैं, वहीं एमपी की सियासत भी कोरोना वायरस से प्रभावित मालूम पड़ रही है. यही वजह है कि मध्य प्रदेश सरकार को बचाने के लिए विधानसभा का बजट सत्र स्थगित करने का प्रस्ताव कल कैबिनेट की बैठक में रखा जा सकता है.

केंद्र सरकार से जारी हुई एडवाइजरी का हवाला

गौरतलब है कि 16 मार्च से विधानसभा का बजट सत्र शुरू होना है. इस बजट सत्र में फ्लोर टेस्ट को लेकर दोनों ही दलों के बीच खींचतान मची हुई है. बीजेपी चाहती है कि विधानसभा में फ्लोर टेस्ट किया जाए तो वहीं सरकार इस फ्लोर टेस्ट से बचने के प्रयास में दिख रही है. अगर फ्लोर टेस्ट की स्थिति बनती है तो इससे सरकार पर संकट आ सकता है. ऐसे में सरकार रणनीति तैयार करने में जुटी है कि विधानसभा सत्र को ही स्थगित कर दिया जाए. कोरोना वायरस को लेकर केंद्र सरकार से जारी हुई एडवाइजरी का हवाला देते हुए सरकार विधानसभा सत्र को स्थगित करने के प्रयास में है.

बढ़ाया जा सकता है विधानसभा का सत्र 

मंत्री पीसी शर्मा की मानें तो केंद्र सरकार ने एडवाइजरी जारी की है कि किसी भी पब्लिक गैदरिंग प्लेस के आयोजनों को रद्द किया जाए ताकि संक्रमण का खतरा ना हो. विधानसभा में भी प्रदेशभर से कई लोग पहुंचते हैं जिनमें संक्रमण का खतरा बना रहता है. इस खतरे से बचने के लिए संभव है कि विधानसभा का सत्र आगे बढ़ाया जाए.

Vidhansabha
सरकार रणनीति तैयार करने में जुटी है कि विधानसभा सत्र को ही स्थगित कर दिया जाए.


बीजेपी का कहना "डरो ना"​

वहीं बीजेपी की मानें तो कोरोना वायरस से ज्यादा डर सरकार को अपनी संख्या बल को लेकर है इसलिए सरकार सत्र को आगे बढ़ाने की बात कर रही है. हालांकि इन तमाम राजनैतिक दांवपेचों के बीच सीएम कमलनाथ काफी कॉन्फिडेन्ट हैं कि सरकार अगले 10 सालों तक और चलेगी लेकिन विधायक बचाओ मुहिम भी सरकार के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है.

ये भी पढ़ें: Corona Alert: सिनेमा घरों और स्कूलों के बाद अब MP में कॉलेज भी बंद

MP: सिंधिया समर्थक 6 मंत्री बर्खास्त, राज्यपाल ने विभागों का किया बंटवारा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज