दर्दनाक : शादी के चौथे दिन कोरोना पॉजिटिव निकला दूल्हा, 23 दिन बाद हो गयी मौत

अजय का 25 अप्रैल को शादी हुई थी

अजय का 25 अप्रैल को शादी हुई थी

Bhopal. राजगढ़ जिले के पचोर में रहने वाले अजय शर्मा की 25 अप्रैल को सीहोर में शादी हुई. शादी होते ही कुछ तबियत बिगड़ी. जांच करायी तो चार दिन बाद 29 अप्रैल को अजय की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली.

  • Share this:

भोपाल. उस दुल्हन के दर्द का कोई क्या अंदाज़ लगा पाएगा जिसका शादी के 23 दिन बाद ही सुहाग उजड़ गया. जिसके हाथों की मेंहदी का रंग अभी उतरा भी नहीं था कि पति इस दुनिया से विदा हो गया. मामला Mp के राजगढ़ का है. शादी के 23 दिन बाद ही कोरोना के कारण दूल्हे की मौत हो गयी.

25 साल के युवक अजय शर्मा की शादी कोरोना प्रोटोकॉल के तहत की गयी. लेकिन उसी दौरान वो कब कोरोना संक्रमित हो गया पता ही नहीं चला. शादी के फौरन बाद उसकी तबियत बिगड़ी और महज 4 दिन बाद उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गयी. 18 दिन तक इलाज चला लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका.

कोरोना काल में शादी

कोरोना काल में शादी करने से राजगढ़ के एक परिवार की  खुशियां जीवनभर के मातम में बदल गयीं. शादी के दौरान दूल्हा कोरोना संक्रमण का शिकार हुए मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के 25 साल के युवक अजय ने भोपाल में दम तोड़ दिया.
खुशी से लेकर मातम तक का सफर

राजगढ़ जिले के पचोर में रहने वाले अजय शर्मा की 25 अप्रैल को सीहोर में शादी हुई. शादी होते ही कुछ तबियत बिगड़ी. जांच करायी तो चार दिन बाद 29 अप्रैल को अजय की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली. घर के अन्य सदस्यों में एक महिला भी पॉजिटिव मिलीं. रिपोर्ट के बाद अजय का पहले वहीं स्थानीय तौर पर इलाज कराया गया. हालत ज़्यादा बिगड़ने पर भोपाल ले आया गया. लेकिन संक्रमण गहरा कर गया था. सप्ताहभर वेंटिलेटर पर रहने के बाद अजय ने दम तोड़ दिया.

कोविड प्रोटोकॉल में शादी



हालांकि अजय की शादी में कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन किया गया था. सीहोर में एक मंदिर में सीमित लोगों की मौजूदगी में ही शादी हुई थी. अजय  की शादी नरसिंहगढ़ के मोतीपुरा गांव की युवती से हुई थी. परिवार के चुनिंदा लोग शादी में शामिल हुए थे. अजय के संक्रमित होने के बाद जब बाकी लोगों की जांच की गयी तो उसकी भाभी भी पॉजिटिव निकलीं. बाकी अन्य लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी.

एक चूक जीवनभर का दर्द

कोविड प्रोटोकॉल के मुताबिक युवक की अंत्येष्टि भोपाल के मुक्तिधाम में कर दी गयी. कोरोना काल में शादी की रिस्क लेने पर युवक अजय की जान चली गई. कहने को तमाम प्रोटोकॉल फॉलो किए गए थे लेकिन शादी की खरीददारी और लोगों की आवाजाही के दौरान दूल्हे को कब कोरोना वायरस लग गया इसका पता भी नहीं चल पाया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज