MP उपचुनाव मंथन: कांग्रेस के पूर्व विधायक का शायराना अंदाज- यूं ही कोई बेवफा नहीं होता...
Bhopal News in Hindi

MP उपचुनाव मंथन: कांग्रेस के पूर्व विधायक का शायराना अंदाज- यूं ही कोई बेवफा नहीं होता...
मध्य प्रदेश में उपचुनाव (Bye election) को लेकर बीजेपी में बैठकों के दौर जारी हैं

पूर्व विधायक जजपाल सिंह ने कहा कि सिंधिया समर्थक विधायक जब कांग्रेस नेताओं से मिलते थे तो ऐसा लगता था मानो किसी दुश्मन से मुलाकात कर रहे हों जबकि बीजेपी ने सिर्फ 3 महीने में ही उन्हें अपना बना लिया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में उपचुनाव (Bye election in Madhya Pradesh) को लेकर बीजेपी में बैठकों के दौर जारी हैं. गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी बीजेपी प्रदेश मुख्यालय (BJP Headquarter) में 13 विधानसभा सीटों के उपचुनाव को लेकर मंथन का दौर जारी रहा बैठक में शामिल होने के लिए सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक वह पूर्व विधायक भी पहुंचे जिनके उपचुनाव लड़ने की पूरी संभावना है. अशोक नगर से विधायक रहे जज पाल जज्जी ने बैठक में जाने के दौरान एक ऐसी बात कही जो अब सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बन गई है.

बीजेपी ने सिर्फ 3 महीने में ही उन्हें अपना बना लिया
जजपाल सिंह से जब कांग्रेस सरकार गिराने के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए ये बताने कि कोशिश की कि आखिरकार कांग्रेस के 22 विधायकों ने उससे बेवफाई क्यों की जसपाल ने शायराना अंदाज में अपनी बात कहते हुए कहा 'यूं ही कोई बेवफा नहीं होता कुछ तो वजह रही होगी' दरअसल जजपाल से ज्योतिरादित्य सिंधिया के वायरल ऑडियो को लेकर सवाल पूछा गया था. जिसमें पैसों के लेन-देन की बात सामने आई थी, जजपाल ने कहा कि सिंधिया ऐसे नेता है जो अपने अकाउंट से करोड़ों रुपए दान कर लोगों की मदद करते हैं कांग्रेस इसे नहीं समझ पाई. सिंधिया समर्थक विधायक जब कांग्रेस नेताओं से मिलते थे तो ऐसा लगता था मानो किसी दुश्मन से मुलाकात कर रहे हों जबकि बीजेपी ने सिर्फ 3 महीने में ही उन्हें अपना बना लिया है. उपचुनाव को लेकर उन्होंने दावा किया कि उपचुनाव में बीजेपी सभी 24 सीटें जीतेगी.

रूठों को मना लिया
शुक्रवार को 13 विधानसभा सीटों के उपचुनाव को लेकर हुई बैठक में पूर्व मंत्री दीपक जोशी भी शामिल होने पहुंचे दीपक जोशी से जब पार्टी से उनकी नाराजगी का सवाल किया गया तो उनका कहना था कि अब उनकी किसी से नाराजगी नहीं है उन्हें जिस बात को लेकर आपत्ति थी वह प्रदेश अध्यक्ष और संगठन के नेताओं ने दूर कर दिया है पार्टी के सभी लोग उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी के लिए काम करेंगे फिर वह कोई भी हो बैठक में पूर्व मंत्री गौरीशंकर शेजवार भी शामिल होने पहुंचे.



बीजेपी ने बनाई हैं समितियां
मध्यप्रदेश में 24 सीटों के लिए विधानसभा का उपचुनाव होना है इनमें सबसे ज्यादा 16 सीटें ग्वालियर चंबल संभाग की है बीजेपी ने उपचुनाव के लिए चुनाव संचालन से लेकर चुनाव प्रबंध समिति और विधानसभा सीटों के प्रभारी तक नियुक्त कर दिए हैं अभी तक इनकी बैठकें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की जा रही थीं. लेकिन अब अनलॉक (Unlock) में सभी तरह की आने-जाने की छूट मिलने के बाद बैठक पार्टी कार्यालय में होना शुरू हो गई है. इतना जरूर है कि इन बैठकों से मीडिया को दूर रखा जा रहा है.

ये भी पढ़ें- Wild life प्रेमियों के लिए खुशखबरी: 15 जून से इन नियमों के साथ खुलेगा बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज